मास्टर ट्रेनरो को मानदेय देने आए 50 हजार का हो गया बंदरबांट!

-शिक्षा विभाग में सामने आया एक और गड़बडझाला
-छात्राओ को पैरामिलिट्री की ट्रेनिंग देने वाले ट्रेनरो के मानदेय के लिए उत्कृष्ट स्कूल श्योपुर में आए थे 50 हजार,राशि आहरण के बाद भी नहीं दिया गया मानदेय

By: Laxmi Narayan

Published: 21 May 2020, 07:03 AM IST

एलएन शर्मा श्योपुर,
जिले के शिक्षा विभाग में आए दिन मनमानी और गड़बड़झाले सामने आ रहे है। 50 हजार रुपए की राशि का बंदरबांट कर लेने का एक नया मामला सामने आया है। 50 हजार रुपए की राशि शासकीय उत्कृष्ट स्कूल श्योपुर को छात्राओ को पैरामिलिट्री फोर्स में जाने की ट्रेनिंग देने वाले मास्टर ट्रेनरो को मानदेय दिए जाने के लिए मिली थी।
खास बात यह हैकि राशि का आहरण बीते माह ही कर लिया गया।इसके बाद भी ट्रेनिंग देने वाले ट्रेनरो को मानदेय का भुगतान मई का दूसरा पखवाड़ा बीतने के बाद भी नहीं किया गया है। जबकि उत्कृष्ट स्कूल श्योपुर के प्रभारी प्राचार्यसंतोष मिश्रा का साफ कहना है कि मानदेय देने के लिए 50 हजार रुपए की राशि हमारे विद्यालय के पीटीआई के द्वारा ली गईहै। उधर मानदेय का इंतजार कर रहे मास्टर ट्रेनरो का कहना है कि अभी तक कोई मानदेय नहीं मिला है।ऐसे में सवाल उठ रहा है कि 50 हजार रुपए आखिर कहां चले गए। इसके बाद भी शिक्षा विभाग के अफसर इस मामले में कार्रवाई करने की बजाए मामले को दबाने में जुटे है।
तीन मास्टर ट्रेनरो ने दी छात्राओं को ट्रेनिंग
दरअसल सरकारी स्कूलों में पढऩे वाली जो छात्राएं पैरामिलिट्री फोर्स में जाने की ईच्छुक है,उनको शासन की ओर से नि:शुल्क ट्रेनिंग कराने का कार्यक्रम शुरु किया गया है। ताकि ट्रेनिंग के बाद छात्राओ का चयन आसानी पैरामिलिट्री फोर्स में हो सके। विभागीय सूत्र बताते है कि दो दर्जन के करीब छात्राओं के द्वारा 4-5 माह तक पैरामिलिट्री फोर्स में जाने की ट्रेनिंग ली गई। फिजिकल ट्रेनिंग ओपी सिकरवार तथा लिखित परीक्षा उत्तीर्ण करने की ट्रेनिंग उत्कृष्ट स्कूल में शिक्षक खेमराज आर्य और लेखराज नागर के द्वारा दी गई।

पीटीआई को दे दी है राशि:मिश्रा
उत्कृष्ट स्कूल श्योपुर के प्रभारी प्राचार्य संतोष मिश्रा का कहना है कि छात्राओ को पैरामिलिट्री फोर्स की ट्रेनिंग देने वाले ट्रेनरो को मानदेय सहित अन्य कार्यो के लिए 50 हजार रुपए आएथे। जो पीटीआई हरपाल सिंह जादौन को दे दिए है। वे ही इस कार्यक्रम के नोडल है। उन्होंने उस राशि क्या किया,इसका मुझे पता नहीं है।

मानदेय देने के लिए मांगे है बाउचर:जादौन
उत्कृष्ट स्कूल श्योपुर के पीटीआई हरपाल सिंह जादौन का कहना है कि जिनके द्वारा ट्रेनिंग दी गई है,उनको मानदेय दिया जाएगा। इसके लिए ट्रेनिंग देने वाले मास्टर ट्रेनरो से बाउचर मांगे है,बाउचर आते ही उनको मानदेय प्रदान कर देगे।

अभी तक नहीं मिला मानदेय:सिकरवार
फिजिकल ट्रेनर ओपी सिकरवार का कहना है कि करीब 5 महिने तक छात्राओं को फिजिकल ट्रेनिंग दी गई। मगर ट्रेनिंग का मानदेय अभी तक नहीं मिला है। जबकि ट्रेनिंग संबंधी बाउचर भी उत्कृष्ट स्कूल में पहुंचा दिए है।

Laxmi Narayan Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned