आग से झुलसी मासूम, अस्पताल में नहीं मिले डॉक्टर

- दो घंटे इंतजार के बाद परिजन मासूम को इलाज के लिए ले गए ग्वालियर
- मामला विजयपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र का

By: Anoop Bhargava

Published: 19 Mar 2020, 11:21 AM IST

श्योपुर
घर पर खेलते हुए गर्म पानी से झुलसी मासूम को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र विजयपुर में उपचार के लिए चिकित्सक का इंतजार करना पड़ा। परिजनों का आरोप है कि दो घंटे तक उन्होंने चिकित्सक का इंतजार किया, लेकिन चिकित्सक नहीं आए। इसके बाद वे बच्ची को इलाज के लिए ग्वालियर लेकर चले गए। इस मामले को लेकर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के बीएमओ का कहना है कि परिजनों के आरोप गलत हैं। चिकित्सक ने बच्ची को देखा था।

तहसील विजयपुर के आगरा थाना अंतर्गत ग्राम चेटीखेड़ा (पचेर ) निवासी रामवीर की चार वर्षीय बेटी नेहा घर पर खेल रही। खेलते-खेलते वह गर्म पानी के पास जा पहुंची और पानी के ऊपर जा गिरी। जिससे मासूम बुरी तरह झुलस गई। परिजन नेहा को तत्काल सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र लेकर भागे।

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र विजयपुर पहुंचने पर परिजनों को स्वास्थ्य केन्द्र पर स्टाफ तो मिला, लेकिन चिकित्सक नहीं थे ऐसा परिजनों का आरोप है। ऐसे में परिजनों ने डॉक्टर का इंतजार किया। लेकिन जब डॉक्टर नहीं पहुंचे तो परिजन मजबूर होकर बच्ची को इलाज के लिए ग्वालियर ले गए। इस मामले में बीएमओ डॉ.केएल पचौरिया ने कहा कि परिजनों के आरोप गलत हैं। बच्ची 90 प्रतिशत जली थी। उसे चिकित्सक ने परीक्षण के बाद रैफर किया।

Anoop Bhargava
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned