कैशियर और अकाउटेंट को पुलिस ने उठाया,शुरू की पूछताछ

-सस्पेंड होने के बाद गायब हुए कैशियर को पुलिस ने ग्वालियर, तो अकाउंटेंट को श्योपुर से किया राउंडअप
-बैंक मैनेजर सहित अन्य कर्मचारियों के दर्ज किए बयान
-मामला भारतीय स्टेट बैंक से 101 लोगो के गायब हुए 15 किलो सोने का

By: Laxmi Narayan

Published: 14 Jun 2020, 03:03 AM IST

श्योपुर,
भारतीय स्टेट बैंक की स्टेशन रोड स्थित श्योपुर शाखा के लॉकर से 101 लोगों का 15 किलो 446 ग्राम सोना गायब होने के मामले में पुलिस ने जहां अपनी पड़ताल को तेज कर दिया है। वहीं बैंक द्वारा सस्पेंड किए गए कैशियर और अकाउंटेंट को भी राउडअप करके पूछताछ शुरू कर दी है। पुलिस ने कैशियर राजीव पालीवाल को ग्वालियर से एक पुलिस टीम भेजकर राउंडप किया। कैशियर ग्वालियर के एक अस्पताल में भर्ती था। जबकि अकाउंटेंट रामनाथ ठाकुर को श्योपुर से ही हिरासत में लिया।
पुलिस सूत्रों के मुताबिक कोतवाली थाने की एक पुलिस टीम ने बैंक मैनेजर सहित बैंक के दर्जनभर कर्मचारियों के बयान दर्ज कर लिए है। सभी बैंककर्मियों ने अपने बयानों में यही बात पुलिस को बताई कि लॉकर की चाबी कैशियर और अकाउंटेट के पास ही रहती थी। इनके अलावा अन्य किसी बैंककर्मी को लॉकर तक जाने की अनुमति भी नहीं थी। इधर बैंक की एक टीम शनिवार को ग्वालियर से श्योपुर पहुंची। जिसने बैंक के अंदर अपनी विभागीय कार्रवाई को अंजाम दिया।
जिनका था सोना,उनके भी बयान दर्ज करेगी पुलिस
बैंक के लॉकर से जिन 101 लोगों का सोना गायब हुआ है,पुलिस उन लोगों के नाम तो सार्वजनिक नहीं करेगी। मगर उनके बयान जरुर दर्ज करेगी। ताकि पुलिस को यह पता लग सके कि गोल्ड लॉन लेने के लिए किस व्यक्ति ने कौन सा सोने का जेवर बैंक में गिरवी रखा था और वह बरामद होने पर अपने सोने के जेवरो को पहचान सके।
कुछ के साथ हो गई दोहरी मार
इस बैंक से गोल्ड लॉन लेने वाले कुछ लोगो के साथ दोहरी मार भी हो गई। दरअसल जिन 101 लोगो का सोना लॉकर से गायब हुआ,उनमें से कुछ लोग लॉन का पैसा वापस जमा करवाने के लिए लॉकर की चाबी गुम होने के बाद बैंक पहुंच गए थे। उन लोगों ने पैसा जमा करवाकर अपना गिरवी रखा सोना वापस मांगा तो बैंक प्रबंधन ने उनको यह आश्वासन दिया कि अभी पैसा जमा होने से तुम्हारा ब्याज लगना बंद हो गया है। जब लॉकर खुलेगा,तब तुम्हे तुम्हारा सोना भी वापस मिल जाएगा। ऐसे में अब उनके साथ यह दोहरी मार हो गई कि एक तो लॉन का पैसा बैंक में जमा हो गया,वहीं उनका सोना भी उनको वापस न मिलते हुए लॉकर से गायब हो गया।
वर्जन
बैंक के दोनो सस्पेंड कर्मचारियों को राउंडअप कर उनसे पूछताछ की जा रही है। बैंक मैनेजर सहित अन्य बैंककर्मियों के भी बयान दर्ज कर लिए गए है। उम्मीद है कि जल्द ही पूरे मामले का खुलासा हो जाएगा।
संपत उपाध्याय
एसपी,श्योपुर

Laxmi Narayan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned