script चीते हो गए आलसी, कई दिनों से नहीं कर रहे शिकार | Cheetahs became lazy in Kuno National Park | Patrika News

चीते हो गए आलसी, कई दिनों से नहीं कर रहे शिकार

locationश्योपुरPublished: Dec 19, 2023 09:07:22 pm

Submitted by:

deepak deewan

कूनो नेशनल पार्क में चीतों को अब खुले जंगल में छोड़ दिया गया है। यहां लाए गए अफ्रीकन चीतों को पहले बाड़े में रखा गया था पर बाद में जंगल में छोड़ दिया गया था। जंगल में चीतों की मौत से घबराकर वनविभाग ने इन्हें दोबारा बाड़े में रख दिया लेकिन 2 चीतों को फिर से जंगल में छोड़ दिया। अब चीतों के कारण वन अधिकारियों को नई चिंता हो रही है। ये चीते शिकार ही नहीं कर रहे हैं।

kunochitah.png
कूनो नेशनल पार्क में चीतों को अब खुले जंगल में छोड़ दिया गया है

कूनो नेशनल पार्क में चीतों को अब खुले जंगल में छोड़ दिया गया है। यहां लाए गए अफ्रीकन चीतों को पहले बाड़े में रखा गया था पर बाद में जंगल में छोड़ दिया गया था। जंगल में चीतों की मौत से घबराकर वनविभाग ने इन्हें दोबारा बाड़े में रख दिया लेकिन 2 चीतों को फिर से जंगल में छोड़ दिया। अब चीतों के कारण वन अधिकारियों को नई चिंता हो रही है। ये चीते शिकार ही नहीं कर रहे हैं।

चीता की खासियत है कि ये ताजा मांस खाना ही पसंद करते हैं। भूख लगते ही शिकार करने निकल पड़ते हैं। चीतों की भूख मिटाने के लिए जंगल में खूब चीतल और हिरन हैं पर चीते शिकार ही नहीं कर रहे हैं। इससे अधिकारियों की चिंता बढ़ गई है। चीतों को यहां लाए तीन दिन से ज्यादा हो चुके हैं लेकिन शिकार नहीं कर रहे।

यह भी पढ़ें: 48 घंटों में बिगड़ेगा मौसम, पश्चिमी विक्षोभ से दो दिन तक होगी झमाझम बरसात

कूनो नेशनल पार्क में खुले जंगल में अग्नि और वायु नामक चीतों को छोड़ा गया है। ये दोनों नर चीते हैं। जंगल में आने के तीन दिन बाद भी चीतों ने शिकार नहीं किया है। विशेषज्ञ कह रहे हैं कि चीते आलस के कारण शिकार नहीं कर रहे हैं। दरअसल इन्हें लंबे समय तक बाड़ों में रखकर मांस उपलब्ध कराया जाता रहा।

जंगल में दोनों चीते दौड़ तो रहे हैं पर शिकार नहीं कर रहे हैं। तथ्य यह भी है कि चीता ताजा मांस खाना पसंद करते हैं। भूख लगते ही शिकार करते हैं और बिना शिकार किए दो दिन तक रह सकते हैं लेकिन अब उन्हें तीन दिन का समय हो चुका है। चीतों की हर गतिविधि पर ट्रेकिंग टीम निगाह रख रही है।

यह भी पढ़ें: 19 से बदलेगा मौसम, अगले सप्ताह दो दिनों तक होगी जोरदार बरसात

कूनो नेशनल पार्क में करीब 18 हजार ऐसे वन्य प्राणी हैं जिनका चीता शिकार कर सकते हैं। यहां 9000 चीतल और करीब 4000 काले हिरण हैं। यहां 2500 नील गाय और 1000 सांभर भी हैं। 800 चिंकारा और 1000 हिरण हैं। वन अधिकारियों के अनुसार लंबे समय तक बाड़ों में रहने के कारण चीता आलसी हो गए हैं और शिकार करने की क्षमता भी प्रभावित हो गई है।

ट्रेंडिंग वीडियो