स्कूल पहुंचने के लिए यहां से गुजरना पड़ता है बच्चों को

स्कूल पहुंचने के लिए यहां से गुजरना पड़ता है बच्चों को
स्कूल पहुंचने के लिए यहां से गुजरना पड़ता है बच्चों को

Vivek Shrivastav | Updated: 12 Oct 2019, 09:00:00 AM (IST) Sheopur, Sheopur, Madhya Pradesh, India

ग्राम पंचायत बनवाड़ा का मामला

 

 

दांतरदा(श्योपुर). स्कूली बच्चों को लेकर प्रशासन व पंचायत के पदाधिकारी कितना सजग है, इसका नजारा ग्राम पंचायत बनवाड़ा में आसानी से देखने को मिल सकता है। यहां स्कूल में पहुंचने के लिए बच्चों को कीचड़ से होकर गुजरना पड़ता है। बच्चे रोजाना कीचड़ भरे रास्ते से होकर स्कूल जाने को मजबूर हैं। इसके बाद भी पंचायत व प्रशासन की ओर से कोई ठोस कदम नहीं उठाया जा रहा है।

ग्राम पंचायत बनवाड़ा गांव की सडक़ का हाल बुरा है। बताते हैं कि पिछले चार साल से यह समस्या बनी हुई है इसके बाद भी न तो पंचायत से इस पर ध्यान दिया और न ही प्रशासनिक अफसरों ने ग्रामीण रास्ता दुरस्त कराए जाने को लेकर शिकायत दर्ज करा चुके हैं। इसके बाद भी रास्ते के हालात में कोई सुधार नहीं हो सका है। घरों से निकलने वाले पानी की निकासी के लिए नालियां नहीं बनने से सडक़ पर पानी जमा होने से यह स्थिति बनी है। बच्चे बारिश के दिनों में हर रोज कीचड़ भरे रास्तों से गुजर कर स्कूल पहुंचते हैं।

सडक़ निर्माण की मांग

ग्रामीणों का कहना है कि इस मार्ग निर्माण के लिए वे लंबे समय से मांग करते आ रहे हैं। जिम्मेदारों ने कई बार आश्वाशन भी दिया मगर पूरा नहीं किया, जिसका खामियाजा आज भी स्कूली बच्चों व ग्रामीणों को भुगतना पड़ रहा है। छात्रों का कहना है कि यदि स्कूल में पढऩा है तो इस रास्ते से होकर गुजरना उनकी मजबूरी है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned