ग्रामीणों पर दर्ज झूठे प्रकरण वापस लेने के साथ हाईपावर कमेटी से जांच कराने की मांग

- मामला ग्राम धोकरी में आबकारी विभाग द्वारा की गई कार्रवाई का

By: Anoop Bhargava

Published: 30 Jun 2020, 10:44 AM IST

श्योपुर
रघुनाथपुर थाना क्षेत्र के ग्राम धोकरी गांव में अवैध शराब पकडऩे के नाम पर ग्रामीणों पर दर्ज कराए गए झूठे प्रकरण वापस लेने व हाईपावर कमेटी से मामले की मांग को लेकर ब्लॉक कांग्रेस कमेटी विजयपुर ने मार्च निकालकर सहायक कलेक्टर व प्रभारी एसडीएमू पवार नवजीवन विजय को ज्ञापन सौंपा।

ग्रामीणों के साथ हुए अन्याय को लेकर मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष रामनिवास रावत, पूर्व विधायक बाबूलाल मेवरा ने धोकरी गांव के ग्रामीणों के साथ मिलकर तहसील तक मार्च कर सहायक कलेक्टर व प्रभारी एसडीएम को ज्ञापन सौंपा। इस दौरान बताया गया कि 17 जून की दोपहर शराब ठेकेदार के 20-25 लोग हथियारों से लेस होकर धोकरी गांव में पहुंचे जहां उन्होंने ग्रामीणों को धमकी देते हुए अवैध शराब बिकवाने के लिए कहा। जब ग्रामीणों ने इस बात से इंकार कर दिया तो शराब ठेकेदार के लोगों ने ग्रामीणों के साथ बुरी तरह से मारपीट की और हवाई फायर कर दहशत फैलाने का काम किया।

इसके बाद शराब ठेकेादार ने आबकारी विभाग के कर्मचारियों को मौके पर बुलाकर शराब पकडऩे गई टीम पर हमला करने का उल्टा ग्रामीणों के खिलाफ मामला दर्ज करा दिया। शराब ठेकेदार द्वारा की गई मारपीट में मोरिया पुत्र खिडक़ी मोगिया, चंदन पुत्र तेजपाल मोगिया, बाबू पुत्र नात्या मोगिया, लख्मी पुत्र धर्मपाल मोगिया, सुनीता पत्नी रेशम मोगिया गंभीर रूप से घायल हो गए। पुलिस ने इनकी रिपोर्ट लिखने के बजाए उल्टा आबकारी विभाग के कर्मचारियों के कहने पर उनके खिलाफ झूठा मुकदमा दर्ज कर लिया। इसलिए मामले की जांच हाईपावर कमेटी से कराई जाए व ग्रामीणों पर दर्ज किए गए प्रकरण को वापस लिया जाए। कांग्रेस पदाधिकारियों ने 15 दिन का समय प्रशासन को दिया है।

Anoop Bhargava Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned