आग का ताडंव, दो सौ चौंतीस बीघा फसल खाक

- प्रशासन के आग बुझाने के इंतजाम नाकाफी
- एसडीएम सहित पुलिस बल पहुंचा मौके पर, पटवारियों ने किया सर्वे
- चार दमकल गाडिय़ां पहुंची आग बुझाने, पुलिस और ग्रामीण भी जुटे रहे आग बुझाने

By: Anoop Bhargava

Published: 10 Apr 2019, 08:25 PM IST

श्योपुर
आवदा थाना क्षेत्र में बुधवार को छह घंटे आग का ताडंव चला। जिससे चार गांव के 234 बीघा क्षेत्र में खड़ी गेहूं की फसल खाक हो गई। खेतों से आग की लपटें उठते देख किसानों में अफरा-तफरी मच गई। ग्रामीण दौड़कर मौके पर पहुंचे और आग पर काबू पाने का प्रयास शुरू कर दिया। पुलिस प्रशासन के साथ फायरबिग्रेड को आग लगने की सूचना दी गई।

आवदा थाना पुलिस बल मौके पर पहुंचा और ग्रामीणों के साथ आग बुझाने में जुट गया। फायरबिग्रेड देरी से पहुंची। जब तक काफी नुकसान हो चुका था। आग लगने से करीब ६० लाख का नुकसान होना बताया जा रहा है। आवदा, बछेरी, मालीपुरा और राड़ेप गांव के 24किसानों को नुकसान पहुंचा है। आग लगने का कारण पता नहीं चल सका है। पुलिस और प्रशासन की संयुक्त टीम आग लगने के कारणों का पता कर रही है।

दोपहर करीब 12 बजे आवदा गांव में आग लगी। तेज हवा के चलते यह आग बछेरी, मालीपुरा और राड़ेप के हार तक पहुंच गई। जिससे खेत में खड़ी गेहूं की फसल जलकर खाक हो गई। नुकसान का आंकलन करने के बाद प्रशासन किसानों को राहत राशि देगा। एसडीएम यूनिस कुरैशी, आवदा थाना प्रभारी विकास तोमर, पटवारी व पुलिस बल भी मौके पर पहुंच गया था।
चार दमकल गाड़ी पहुंची आग बुझाने
आग लगने की सूचना मिलने पर श्योपुर और बड़ौदा से दमकल गाड़ी आग प्रभावित गांव में पहुंची। चार दमकल गाड़ी ने आग बुझाई। इससे पहले तक पुलिस व ग्रामीण काफी हद तक आग पर काबू पा चुके थे। हवा के चलते आग बुझाना मुश्किल हो रहा था। दमकल गाडिय़ों के देरी से पहुंचने के कारण किसानों में रोष था। उनका कहना था कि आग बुझाने के इंतजाम नाकाफी हैं।

Anoop Bhargava
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned