लॉकडाउन से सुधरा पर्यावरण, 80 एक्यूआई से नीचे आई हवा की गुणवत्ता

श्योपुर में लगातार कम हो रहा पर्यावरण प्रदूषण, 100 से ऊपर रहने वाली शहर की एक्यूआई 80 से भी नीचे पहुंची

By: jay singh gurjar

Published: 29 Mar 2020, 07:00 AM IST

श्योपुर,
कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने गत 22 मार्च को जनता कफ्र्यू के बाद 23 से लगातार चल रहे लॉकडाउन का असर पर्यावरण पर दिख रहा है। सड़कों पर वाहनों की रैलमपेल 95 फीसदी बंद होने से शहर का प्रदूषणस्तर काफी नीचे आ गया है। स्थिति यह है कि सामान्य दिनों में 100 से 150 एक्यूआई के बीच रहने वाली श्योपुर की हवा की गुणवत्ता 80 एक्यूआई से भी नीचे आ गई है। शनिवार शहर में एयर क्वालिटी इंडेक्स (एक्यूआई) 76 दर्ज की गई।


एयर क्वालिटी इंडेक्स वेबसाइट के मुताबिक श्योपुर में 15 मार्च से 21 मार्च तक हवा की गुणवत्ता 104 से 120 तक चल रही थी। लेकिन 22 मार्च से ये घटकर 100 एक्यूआई के नीचे आ गई है। यही वजह है कि बीते 22 से 28 मार्च के बीते एक सप्ताह में शहर में एयर क्वालिटी 75 से ८0 के बीच रही है। जो एक आदर्श स्थिति है। पर्यावरणवेत्ताओं के मुताबिक के मुताबिक लॉकडाउन के दौरान परिवहन और निर्माण कार्य बंद होने से वायु गुणवत्ता बेहतर हुई है। ऐसे में आगामी 14 अप्रैल तक रहने वाले लॉकडाउन में पर्यावरण प्रदूषण में काफी सुधार होगा।


ये है एक्यूआई मापदंड
एयर क्वालिटी इंडेक्स में हवा की गुणवत्ता के अलग-अलग पैमाने तय किए गए है। इसमें 50 एक्यूआई तक की हवा सबसे अच्छी मानी जाती है। इसके बाद 51 से 100 एक्यूआई तक आदर्श हवा कही जाती है। लेकिन 101 से 150 तक एक्यूआई वाली हवा संवेदनशील लोगों (अस्थमा के मरीज, वृद्धजन आदि) के लिए अनहेल्दी मानी जाती है। वहीं 151 से 250 तक की हवा अनहेल्दी, 251 से 350 तक वेरी अनहेेल्दी और इससे ऊपर की हवा स्वास्थ्य के लिए पूरी तरह प्रतिकूल मानी जाती है।

jay singh gurjar Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned