किन्नर कोमल ने बढ़ाए मदद के हाथ, गरीबों को बांटी खाद्य सामग्री

कोरोना के लॉकडाउन में गरीबों की मदद के लिए आगे आई किन्नर, घर से भी सामग्री ले जा रहे जरुरतमंद

By: jay singh gurjar

Published: 07 Apr 2020, 07:00 AM IST

श्योपुर,
कोरोना के लॉकडाउन में निराश्रित और बेघर लोगों के लिए भले ही प्रशासन और सामाजिक संस्थाएं मदद को आगे आ रहे हैं, लेकिन अपनी अनूठी समाजसेवा से अलग पहचान बनाने वाली श्योपुर की किन्नर कोमल ने भी गरीबों की मदद के लिए हाथ बढ़ाए हैं। कोमल ने पिछले दिनों जहां शहर के आसपास निराश्रित और घुमंतू परिवारों को खाद्य सामग्री प्रदान की, वहीं अब उनके घर से ही जरुरतमंद लोग खाद्य सामग्री ले जा रहे हैं।


कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए लॉकडाउन के चलते लोग अपने घरों में रह रहे हैं। ऐसे में रोजाना मेहनत मजदूरी कर गुजर बसर करने वालों के सामने खाने-पीने का संकट गहरा गया है। यही वजह है कि इनकी मदद के लिए किन्नर कोमल द्वारा ऐसे लोगों को खाद्य सामग्री के पैकेट बांटे हैं। उन्होंने पिछले दिनों बंजारा डेम के ऊपर रहने वाले घुमंतू परिवार और अन्य गरीब परिवारों को आटा, दाल, मशाले, शक्कर, साबुन, तेल आदि सामग्री की किट बनाकर प्रदान की। इसके बाद अब जिला प्रशासन द्वारा सामाजिक संस्थाओं और लोगों द्वारा सीधे ही मदद किए जाने पर रोक लगाए जाने के बाद किन्नर कोमल द्वारा अपने घर से ही जरुरतमंदों को खाद्य सामग्री की ये किट प्रदान की जा रही है।


कोरोना संकट से पहले भी कोमल लोगों से मिली बधाई की राशि से गरीबों की मदद करती रही हैं और कपड़े, खाद्य सामग्री आदि देती रही हैं। किन्नर कोमल के मुताबिक बीते जरुरतमंद आते हैं तो उन्हें अपने घर से ही खाद्य सामग्री दे रहे हैं। उनका कहना है कि ये संकट की घड़ी है, इसमें गरीबों और निराश्रितों की मदद करना हमारा कर्तव्य है।

jay singh gurjar Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned