जनसुनवाई के दिन भी पंचायतों में ताला,नहीं हो रही जन की सुनवाई

-ग्रामीणों को छोटे-मोटे कामों के लिए होना पड़ रहा है परेशान
-जिम्मेदार अफसरों की अनदेखी से पंचायतों में बढ़ रही मनमानी

श्योपुर,
यूं तो प्रत्येक मंगलवार को ग्राम पंचायतों को भी जनसुनवाई करने के निर्देश है। मगर शासन के इन निर्देशों की ग्राम पंचायतों में धज्जियां उड़ रही है। क्योंकि ग्राम पंचायत में जनसुनवाई होना दूर की बात, पंचायतों के ताले तक नहीं खुल रहे है। ऐसे में पंचायत स्तर पर जन की सुनवाई होने की उम्मीद किसी मजाक से कम नहीं लग रही है। अफसर भी इस दिशा में ध्यान नहीं दे रहे है। जिसकारण ग्रामीण अपनी छोटी-मोटी परेशानियों को लेकर भटक रहे है।
ऐसी स्थिति पत्रिका टीम को अपनी पड़ताल के दौरान सामने आई। दरअसल प्रत्येक मंगलवार को सभी शासकीय कार्यालयों में जनसुनवाई होती है। हर मंगलवार को निषादराज भवन में कलेक्टर सहित जिले के अन्य अफसर जनसुनवाई लगाकर लोगो की समस्याएं सुनते है। शासन ने ग्राम पंचायतों में भी जन सुनवाई करने के निर्देश दिए है। ग्राम पंचायते शासन के निर्देशों का पालन करते हुए जनसुनवाई कर रही है या नहीं,यह देखने के लिए पत्रिका टीम आधा दर्जन से अधिक ग्राम पंचायतों में पहुंची। मगर ग्राम पंचायतों में कहीं जनसुवाई होती नहीं मिली। नजदीकी ग्राम रायपुरा में तो ग्राम पंचायत के एक कक्ष में ताला पड़ा था। जबकि बगल के कक्ष में कुछ लोग बैठकर चिलम पी रहे थे।

ग्राम पंचायातों में यह मिली स्थितियां

केस-1
फोटो 4-ग्राम पंचायत रायपुरा
समय-12:05 बजे

एक कक्ष में पड़ा था ताला,दूसरे में लग रहे थे चिलम के सुट्टे
जनपद पंचायत श्योपुर की नजदीकी ग्राम पंचायत रायपुरा का कार्यालय स्कूल परिसर में स्थापित ई कक्ष में संचालित है। कक्ष के बाहर यह लिखा जरुर था कि प्रत्येक मंगलवार को सुबह 11 बजे से 2 बजे तक जनसुनवाई।मगर पंचायत में दोपहर 12:05 बजे ताला पड़ा था। जबकि बगल के कक्ष में कुछ लोग बैठकर चिलम पी रहे थे।

केस-2
फोटो 4 ए ग्राम पंचायत बेनीपुरा
समय-1:10 बजे
पंचायत भवन पर पड़ा था ताला
जनपद पंचायत विजयपुर के ग्राम बैनीपुरा में ग्राम पंचायत भवन तो मौजूद है। मगर यह पंचायत भवन नियमित रूप से नहीं खुलता है। यह बात ग्राम पंचायत भवन की स्थिति बता रही है। मंगलवार होने के बाद भी ग्राम पंचायत पर ताला पड़ा था।

केस-3
फोटो-4 बी-ग्राम पंचायत गोपालपुर
समय:12:45 बजे
ताले में बंद था ग्राम पंचायत
जनपद पंचायत विजयपुर की ग्राम पंचायत गोपालपुर के भवन पर भी ताला पड़ा था। पंचायत भवन की स्थिति को देखकर लग रहा था कि यह पंचायत भी यदाकदा ही खुलता है। जनसुनवाई होने के बाद भी ग्राम पंचायत पर ताला लटका था। जबकि ग्राम पंचायत के जिम्मेदार नदारद थे।

केस-4
फोटो- 4 सी
समय-12:30 बजे
बंद था पंचायत भवन,नदारद थे पंचायतकर्मी
आदिवासी विकासखंड कराहल की ग्राम पंचायत बासेड़ की स्थिति भी ज्यादा जुदा नहीं है। यहां पहुंचकर देखा तो पंचायत भवन पर ताला पड़ा था। जिनको ग्राम पंचायत कार्यालय खोलकर जनसुनवाई करनी थी,वे नदारद बने थे।
केस-5
फोटो-4 डी-ग्राम पंचायत वीरपुर
समय:1:30 बजे
तहसील मुख्यालय होने के बाद भी पंचायत पर ताला
यूं तो वीरपुर कस्बा तहसील मुख्यालय भी है। इसके बाद भी वीरपुर का ग्राम पंचायत भवन अक्सर ताले में ही कैद रहता है। जनसुनवाई का दिन होने के बाद भी ग्राम पंचायत भवन का ताला नहीं खुला।

वर्जन
पंचायतों में भी जनसुनवाई होनी चाहिए। ऐसे शासन के निर्देश है। यदि ग्राम पंचायतों में जनसुनवाई नहीं हो रही है, तो जिला पंचायत सीईओ के माध्यम से इस मामले को दिखवाते कार्रवाई की जाएगी।
प्रतिभापाल
कलेक्टर,श्योपुर

Laxmi Narayan Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned