सीजन मेंं पहली बार 10 डिग्री के नीचे आया पारा

श्योपुर जिले में बढऩे लगे सर्दी के तैवर, न्यूनतम तापमान 9.6 डिग्री सेल्सियस पर पहुंचा

श्योपुर,
देश के पहाड़ी क्षेत्रों में हेा रही भारी बर्फबारी का असर अब मैदानी इलाकों में पूरी तरह दिखने लगा है। बुधवार को श्योपुर में ही तापमान 10 डिग्री की नीचे आ गया, जो इस सीजन में अभी तक का सबसे कम है। यही वजह है कि अब न केवल सर्दी के तैवर तीखे होने लगे हैं, बल्कि गलन भी बढ़ गई है।

बर्फबारी के बाद उत्तर दिशा की ओर से आ रही ठंडी हवाओं ने सर्दी बढ़ा दी है। सर्दी के मौजूदा सीजन में पहली बार पारा 9.6 डिग्री तक लुढ़का है। यह अब तक का सबसे कम न्यूनतम तापमान है। रात में गलन वाली सर्दी का दौर शुरू हा़े गया है। दिन भर उत्तरी हवा चलती रही, इससे लोगों ने सिहरन का अहसास किया। बुधवार को रात से ही तेज ठंड रही, जिससे मॉर्निंग वॉक करने वाले भी सुबह देरी से निकले। हालांकि दोपहर के तापमान में डेढ़ डिग्री का इजाफा हुआ, जिससे ये 23 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया, लेकिन मौसम विभाग के अनुसार आगामी दिनों में सर्दी और बढ़ेगी। बीते दो दिनों में ही न्यूनतम तापमान में साढ़े छह डिग्री की गिरावट आई है।


नौनिहाल हेा रहे परेशान
रात के तापमान में लगातार हो रही गिरावट से अब सुबह के समय स्कूल जाने वाले नौनिहालों को सबसे ज्यादा परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है, बावजूद इसके निजी स्कूलों की मनमानी जारी है। अभिभावकों का कहना है कि दिसंबर शुरू होते ही स्कूलों का समय परिवर्तित होना चाहिए, लेकिन शहर में अभी भी कई निजी स्कूल सुबह 7 से 8 बजे तक शुरू हो रहे हैं, जबकि स्कूल सुबह 9 बजे से पहले शुरू नहीं हेाने चाहिए।

jay singh gurjar
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned