33 केवीए के 12 केन्द्रों 9 घंटे और 9 केन्द्रों पर 6 घंटे गुल रही बिजली, 126 से अधिक गांव हुए प्रभावित

- 220 केवीए के 33 केवीए फीडरों पर संधारण कार्य के चलते लोगों को झेलनी पड़ी परेशानी

By: Anoop Bhargava

Published: 27 Jul 2020, 10:19 AM IST

श्योपुर
विद्युत वितरण कंपनी के 132 केवीए केन्द्र पर संधारण कार्य के चलते 33 केवीए के 12 केन्द्रों पर 9 घंटे व 9 केन्द्रों पर 6 घंटे बिजली गुल रही। इससे ग्रामीणों को परेशानी का सामना करना पड़ा। बिजली नहीं होने से गर्मी में दिनभर लोग बैचेन नजर आए। सबसे ज्यादा परेशानी बच्चे और बुजुर्गो को झेलनी पड़ी। बिजली आने के बाद ही लोगों ने राहत की सांस ली। बिजली गुल होने से तीन तहसील के करीब 126 गांव प्रभावित रहे। हालांकि बिजलीगुल करने से पहले विद्युत वितरण कंपनी के जीएम ने शनिवार को इस संबंध में आदेश जारी किए थे।

33 केवीए के केन्द्र तिल्लीपुर, सोंठवा, दांतरदा, धीरोली, आसीदा, गुरुनावदा, बड़ौदा, ललितपुरा, अलापुरा, पांडोला, भूरवाड़ा, सलमान्या के अंतर्गत आने वाले करीब 68 गांव में 9 घंटे बिजली गुल रही। यहां सुबह 8 बजे से शाम 5 बजे तक बिजली सप्लाई बंद रखी गई। इसके साथ ही 33 केवीए केन्द्र पांडोला, रामबाड़ी, गोरस, प्रेमसर, सोईंकला, बगडुआ, जानपुरा,जैदा व मायापुर के 63 गांव में 6 घंटे बिजली गुल रही। विद्युत वितरण कंपनी के जीएम दिनेश सुखीजा ने बताया कि 132केवीए केन्द्र पर मेनबस, जंफरिंग और हाईबेस स्ट्रिपिंग का काम किया गया था इसलिए सप्लाई बंद करना पड़ी।
उमस भरी गर्मी में काटना पड़ा दिनभर
मेंटेनेंस कार्य के चलते बिजली गुल रहने के कारण 126 से अधिक गांव के लोगों को उमस भरी गर्मी में पूरा दिन काटना पड़ा। 68 से अधिक गांव में सुबह 8 बजे से गुल हुई बिजली शाम 5 बजे के बाद आई। इससे ग्रामीणों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ा। पानी के लिए भी ग्रामीण परेशान हुए। इसके साथ ही 63 गांव में सुबह 8 बजे से दोपहर दो बजे तक बिजली गुल रही थी।

Anoop Bhargava
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned