पंचायत सचिव सस्पेंड, पुख्ता सबूत जुटाने पुलिस मास्टर माइंड नवीन की खंगाल रही कुंडली

- नवीन के पुराने मामलों पर पुलिस का फोकस, जिला पंचायत से भी तलब होगा रिकॉर्ड
- मामला एसबीआई से सोना चोरी का

By: Anoop Bhargava

Published: 04 Jul 2020, 10:56 AM IST

श्योपुर
एसबीआई के लॉकर से 15 किलो सोना चोरी करने में मास्टर माइंड नवीन गुप्ता के गैराज पार्टनर पंचायत सचिव रमेश जादौन को जिला पंचायत सीईओ ने सस्पेंड कर दिया है। इसके साथ ही पुलिस आरोपी पंचायत सचिव की गिरफ्तारी के लिए उसकेछिपने के स्थानों पर दबिश दे रही है, लेकिन अब तक उसका कोई सुराग नहीं लग सका है। पुलिस ने जिला पंचायत से मास्टर माइंड नवीन गुप्ता के कनेक्शन संबंधी रिकॉर्ड भी तलब किया है। बताया जाता है कि नवीन जिला पंचायत में एनजीओ के जरिए काम करता था। पुलिस नवीन गुप्ता के खिलाफ पुख्ता सबूत जुटाने के लिए हर एक एंगल पर काम कर रही है। इसके साथ ही उसके पुराने मामलों पर भी पुलिस का फोकस है।

जिला पंचायत से पंचाायत सचिव को संस्पेड करने के आदेश शुक्रवार की देर शाम जारी हुए। पुलिस अधीक्षक संपत उपाध्याय का कहना है कि आरोपियों से पूछताछ और पुलिस की पड़ताल में जब पंचायत सचिव का नाम सामने आया, तो उसकी पूरी कुंडली खंगाली गई, जिसमें उसका कनेक्शन बैंक चोरी मामले के मास्टर माइंड नवीन गुप्ता निकला। परत दर परत पड़ताल में पुख्ता सबूत मिलने पर पंचायत सचिव को आरोपी बना लिया गया। अब नवीन गुप्ता के पुराने मामलों की सूची बनाई जा रही है। इसकी पड़ताल के बाद कुछ और तथ्य सामने आ सकेंगे।

बताते हैं कि नवीन गुप्ता ने कराहल क्षेत्र में लंबे समय तक क्योस्क सेंटर संचालित किए। यहां भी कई गड़बड़ी की शिकायतें मिली हैं। जिनकी पड़ताल की जा रही है। उल्लेखनीय है कि अब तक बैंक से सोना चोरी के मामले में बैंक कैशियर राजीव पालीवाल, मास्टर माइंड नवीन गुप्ता उसकी पत्नी शलिनी और ’योति गर्ग ही आरोपी थीं, लेकिन पुलिस ने पंचायत सचिव रमेश जादौन को भी आरोपी बना लिया है। इसके साथ ही नवीन गुप्ता को गैराज के कर्मचारी सचिन के नाम पर धोखाधड़ी कर लोन निकालने के मामले में पुलिस ने रिमांड पर ले रखा है।

Anoop Bhargava Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned