बड़ौदा के कंटेनमेंट जोन के लोग की डिमांड, कर्मचारियों को करना पड़ रहीं पूरी

कहीं कोई कर्मचारियों से कह रहा आटा पिसवाकर लाओ, तो कोई कर रहा सिलेंडर भरवाने की मांग

बड़ौदा. कंटेनमेंट जोन में तैनात अधिकारी व कर्मचारियों को लोगों की डिमांड पूरी करने के लिए पसीना बहाना पड़ रहा है। लोग घरों से ऐसी-ऐसी चीजों की मांग करते हैं जिनके बारे में सुनकर हैरानी होती है। अधिकारियों का कहना है कि लोग गेहूं पिसवाकर लाने, सिलेंडर भरवाने, सिरदर्द की दवा लाने जैसी चीजों की मांग कंट्रोल रूप पर बैठे अधिकारी व कर्मचारियों से कर रहे हैं।


कंटेनमेंट जोन में लोगों को घरों से निकलने की इजाजत नहीं होती और उन्हें प्रशासन से अपने जरूरत के सामान की मांग करनी होती है। इसके लिए प्रशासन ने वार्ड 10 में कंट्रोल रूम बनाया है। जहां पहुंचकर लोग अपनी डिमांड रख रहे हैं। कंटेनमेंट जोन में प्रशासन की जिम्मेदारी होती है कि वह इन मांगों को पूरा करे और लोगों के दरवाजे पर सामान पहुंचाए। इसलिए नगर परिषद के कर्मचारी लोगों की मांग के अनुसार सामान पहुंचाने का काम कर रहे हैं। नगर परिषद के सीएमओ शिवराम जाटव व उनका स्टाफ लोगों की मांग पूरी करने में लगे हैं।


दवा व सिलेंडर लाकर दे रहे कर्मचारी

भंवरगढ़ राजस्थान में 13 वर्षीय बच्ची के कोरोना पॉजिटिव निकलने के बाद उसके ननिहाल के वार्ड 10 व 9 का इलाका सील किया हुआ है। इस क्षेत्र में सब्जी, दूध व अन्य आवश्यक सामग्री प्रशासन उपलब्ध करा रहा है। ऐसे में लोगों की अन्य डिमांड को भी पूरा किया जा रहा है। कंट्रोल रूम पर आकर कोई कहता है मेरे घर पर आटा खत्म हो गया है गेहूं पिसवाकर लाओ। कोई कहता है मेरे घर पर सिलेंडर खत्म हो गया सिलेंडर भरवाकर लाओ। कोई दवा लाने की मांग कर रहा है। कंटोल रूम पर तैनात नगर परिषद के स्टाफ ने चार लोगों के सिलेंडर भरवाकर दिए, 3 लोगों को गेंहू पिसवाकर दिया व 5 लोगों को दवाई मंगवाकर दी।

महेंद्र राजोरे Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned