खोरी के जंगल में दिखा बाघ, ग्रामीण दहशत में

पिछले पांच दिन से बाघ के दिखने की बात बता रहे थे ग्रामीण, वनविभाग ने तब माना जब एक शिक्षक ने दूर से फोटो किया क्लिक







By: Gaurav Sen

Published: 20 Jul 2018, 07:26 PM IST

कराहल । पिछले कुछ दिन से खोरी गांव के आसपास बाघ दिखाई दे रहा है। जिससे ग्रामीणजन दहशत में बने हुए हैं। लेकिन वनविभाग के अधिकारी इस बात को मानने को तैयार नहीं थे, यहीवजह है कि जब गुरुवार को बाघ दिखाई दिया, तो एक शिक्षक ने मोबाइल से उसका फोटो क्लिक कर लिया है, ताकि वनविभाग को फोटो के साथ बाघ के खोरी के जंगल में होने की जानकारी दी जा सके।


बताया गया है कि ऊची खोरी से शिक्षक शुनील शर्मा अपनी बाइक से 4.30 विद्यालय बन्द कर निकले की उन्हें आमेट देवखो के रास्ते में बाघ दिखाई दिया। उन्होंने करीब 75 मीटर की दूरी से बाघ का फोटो लिया और बाइक को आगे ले जाने की बजाय वापस खोरी गांव तरफ लौट गए। जहां ग्रामीणों ने भी उन्हें बाघ के दिखने की बात बताई। बताया गया है कि शिक्षक के साथ दो ग्रामीण भी थे और उन्होंने भी बाघ को देखा। बताया गया है कि शिक्षक जब जा रहा था तभी सामने से ट्रक आता दिखा। ट्रक को बचाने के लिए जैसे ही उसने बाइक को साइड में किया, उसे दूर बाघ दिखाई दे गया। जिसके बाद एकदम से ब्रैक लगाए और बाइक लौटा ली।


अकेले जाने से डर रहे लोग
पिछले पांच दिन के भीतर कई लोगों को बाघ के दिखने से दहशत का माहौल है।स्थिति यह है कि ऊंची खोरी क्षेत्र में लोग दिन के वक्त भी घर से अकेले बाहर जंगल की ओर नहीं जा रहे हैं और न ही बाहर आ रहे हैं।वहीं रात को भी जागते हुए रात गुजार रहे हैं, जिससे बाघ आ जाए तो सुरक्षा की जा सके। ग्रामीणों ने बताया है कि वनविभाग के कर्मचारियों को इस बावत बता दिया गया है, मगर उनके द्वारा बाघ ट्रेस करने को लेकर अभी कुछ भी नहीं किया गया है।

बाघ के आने को लेकर अभी तक कोई सूचना तो नहीं है,मगर ऐसा है तो वीट गार्ड को बुलाकर अभी पता कराते हैं।
सीएल जाटव, प्रभारी रैंज अफसर, मोरावन पश्चिम रैंज

Gaurav Sen
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned