हाइवे पर गड्ढों से हादसे का खतरा

श्योपुर-सवाईमाधोपुर हाइवे पर बने गड्ढे की जिम्मेदार नहीं ले रहे सुध

 

 

By: Vivek Shrivastav

Published: 05 Sep 2019, 09:00 AM IST

सोंईकलां. श्योपुर-सवाईमाधोपुर हाइवे पर कई जगह गड्ढे हो गए है। जो न सिर्फ हादसों का सबब बन रहे है, बल्कि वाहन चालकों सहित राहगीरों को भी खासी असुविधा उठानी पड़ रही है। खास बात यह है कि हाइवे के इन गड्ढों में इन दिनों बारिश का पानी भर गया है। जिससे हादसे का खतरा ज्यादा बढ़ गया है। वहीं बीमारी फैलने की आशंका भी उत्पन्न हो रही है। बावजूद इसके, जिम्मेदार विभागीय अधिकारी हाइवे की गड्ढों की सुध नहीं ले रहे है।

यूं तो शिवपुरी से लेकर पाली तक इस हाइवे पर कई जगह गड्ढे हो गए है। लेकिन दांतरदा में हाइवे के गड्ढे के कारण आए दिन वाहन दुर्घटनाग्रस्त हो रहे है। वहीं सोंईकलां में इस हाइवे पर गुरनावदा तिराहे के पास हो रहा गड्ढा भी खासी परेशानी के कारण बन रहा है। जबकि ज्वालापुर में भी इस हाइवे का गड्ढा भी बढ़ता जा रहा है। यह गड्ढे वाहन चालको के लिए परेशानी के कारण सबब बन रहे है,क्योंकि इन गड्ढों में वाहन आए दिन दुर्घटनाग्रस्त हो रहे है।

रात के समय ज्यादा खतरा

दरअसल बारिश के चलते हाइवे के इन गड्ढों में पानी भर गया है। पानी से भरे ये गड्ढे रात को वाहन चालको को दिखाई नहीं देते है। जिस कारण रात में हादसे का खतरा ज्यादा रहता है। इसके अलावा हाइवे के गड्ढों में भरे पानी से आसपास रहने वाले लोगोंं को बीमारी फैलने का डर सता रहा है। ग्रामीणों ने बताया कि इस बारे में प्रशासन को कई बार अवगत करा दिया गया मगर अभी तक कोई कार्रवाई नहीं कि गई है।

श्योपुर से पाली के बीच हाइवे पर जो भी गड्ढे है, उनको जल्द ही दुरुस्त करवाया जाएगा।

जीवी मिश्रा, कार्यपालन यंत्री, नेशनल हाइवे पीडब्ल्यूडी ग्वालियर

11 किलोमीटर की दो सडक़ों को मंजूरी


प्रदेश के लोक निर्माण विभाग ने श्योपुर क्षेत्र की दो सडक़ों को मंजूरी दी है। पीडब्ल्यूडी मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने बीते रोज श्योपुर विधायक बाबू जंडेल को पत्र लिखकर इन दो सडक़ों को वर्ष2019-20 के विभागीय बजट में प्राथमिकता से शामिल करने के लिए चयन किया गया है। जारी पत्र के मुताबिक जिन दो सडक़ों को विभागीय बजट में शामिल किया गया है, उनमें प्रेमसर से पचीपुरा तक 5.20 किलोमीटर और खोजीपुरा रेलवे स्टेशन से मंगूराम का डेरा तक की 6 किलोमीटर की सडक़ शामिल हैं।

Vivek Shrivastav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned