ठग गिरोह के इनामी और फरार वारंटी को पकड़ पीठ थपथपा रही पुलिस

- कोतवाली व गसवानी थाने का मामला

श्योपुर/विजयपुर
पांच हजार रुपए के इनामी ठग और फरार स्थाई वारंटी को गिरफ्तार कर पुलिस पीठ थपथपा रही है। मामले कोतवाली और गसवासी थाने के हैं। कोतवाली थाना क्षेत्र के सलापुरा से नकली सोना रखकर ठगी करने वाले गिरोह के सदस्य जिस पर पुलिस ने पांच हजार रुपए का इनाम घोषित किया था उसे पुलिस ने राजस्थान से गिरफ्तार कर लिया। वहीं गसवानी पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर स्थाई वारंटी को सहसराम बस स्टैण्ड से गिरफ्तार किया।

ठग गिरोह के इनामी ऊधाराम पुत्र सूखाराम बागरी उम्र 38 साल निवासी ग्राम बोकड़ा जिला जालौर राजस्थान को प्रेम मंदिर थियेटर के पास सवाई माधौपुर से गिरफ्तार कर लिया। आरोपी से 1.5 किलो नकली सोना भी बरामद हुआ है। आरोपी ने पूछताछ में बताया कि हम एक गैंग बनाकर राजस्थान, मध्यप्रदेश, उत्तरप्रदेश, गुजरात में जगह जगह घूमकर लोगों को असली सोने का छोटा टुकड़ा दिखाकर बातों में फंसाकर सोने को कम रेट पर देकर ठगने का काम करते हैं।

कोतवाली थाना क्षेत्र में रहने वाले जमुना प्रसाद को राजाराम अर्जुन, राजू और ऊधाराम ने ठगा था। नकली सोना देकर ठग गिरोह ने पांच लाख रुपए हड़प लिए थे। इनमें से तीन को पुलिस पहले ही गिरफ्तार कर चुकी थी। जिनसे पुलिस ने तीन लाख पचास हजार रुपए बरामद किए थे। जबकि ऊधाराम पर पुलिस ने इनाम घोषित किया था। इधर गसवानी पुलिस ने स्थाई वारंटी नाहर सिंह पुत्र कमलसिंह यादव उम्र 32 साल निवासी खोरा थाना पहाडगढ़़ जिला मुरैना को गिरफ्तार किया। पकड़ा गया आरोपी लम्बे समय से विजयपुर न्यायालय से जमानत लेकर फरार हो गया था।

Anoop Bhargava Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned