मेंटेनेंस के इंतजार में सिसक रही सड़क

मेंटेनेंस के इंतजार में सिसक रही सड़क
road

टेंडर होने के छह माह बाद भी मानपुर-मेवाड़ा सड़क का नहीं हुआ मेंटेनेंस, छह किलोमीटर की सड़क गड्ढों में तब्दील

मानपुर. सड़क के मेंटेनेंस के टेंडर भी हो गए हैं, लेकिन छह माह बाद भी धरातल पर काम शुरू नहीं हुआ है, परिणामस्वरूप बीते एक दशक से सेहत सुधरने के इंतजार में सड़क का दर्द लंबा होता जा रहा है। कुछ यही स्थिति है कि मानपुर-मेवाड़ा सड़क की, जिसके मेंटेनेंस के टेंडर जनवरी में ही हो जाने के बाद भी धरातल पर काम शुरू नहीं हुआ है। जिसके चलते जहां आए दिन हादसे हो रहे हैं, वहीं महज छह किलोमीटर की सड़क को पार करने में आधा घंटे का समय लग रहा है।




यहां बता दें कि मानपुर क्षेत्र को श्योपुर जिला मुख्यालय से सीधे जोडऩे के लिए मानपुर-मेवाड़ा-सोईं मार्ग काफी उपयुक्त है। हालांकि मार्ग महज 16 किलोमीटर का है, लेकिन यहां तीन टुकड़ों में सड़क निर्माण हुआ है। जिसमें एक है मानपुर से मेवाड़ा तक की छह किलोमीटर की सड़क। प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना के अंतर्गत लगभग एक दशक पूर्व बनी इस सड़क की स्थिति वर्तमान में काफी जर्जर है, लेकिन बीते एक दशक में एक बार भी मेंटनेंस नहीं हुआ है। हालांकि अब इसके लिए छह माह पूर्व जनवरी में टेंडर भी हो गए हैं, लेकिन अभी तक विभाग द्वारा काम शुरू नहीं कराया गया है, जिसके चलते जर्जर और गड्ढेदार सड़क से निकलना दूभर है।






गांवों के बीच तो तालाब बनी सड़क
मानपुर से मेवाड़ा तक के 6  किलोमीटर  के रास्ते में बड़ी संख्या में गड्ढे हैं। यही नहीं गांवों से बीच से गुजर रही इस सड़क में कई जगह गड्ढे कीचड़ और दलदल में तब्दील हो गए हैं। मानपुर, सरोदा, बहरावदा और मेवाड़ा के बीच सड़क पर अनगिनत गड्ढे हैं और वहीं गांवों में तो सड़क पर पानी आ जाने के कारण ये गड्ढे भरकर दलदल में तब्दील हो गए हैं। जाते हैं। मानपुर में गोदाम रोड के निकट यही हालात हैं। इससे फिसलन बढ़ गई और रोज वाहन फिसलकर हादसे का शिकार हो रहे हैं।






पांच साल के लिए हुए टेंडर
बताया गया है कि सड़क के मेंटेनेंस के लिए पांच साल का टेंडर दिया गया है, जिसमें संबंधित ठेकेदार द्वारा पांच साल तक लगातार सड़क को मेंटेन रखना है। बताया गया है कि एक ग्रुप में चार सड़कों के मेंटेनेंस का ठेका हुआ है, जिसमें मानपुर-मेवाड़ की छह किलोमीटर की ये सड़क भी शामिल है। लेकिन छह माह बीतने के बाद भी कार्य शुरू नहीं होने से लोगों में आक्रोश है। लोगों का कहना है कि पूर्व में भी एक ठेकेदार द्वारा टेंडर लेने के बाद काम छोड़ दिया गया, ऐसे में कहीं इस बार भी ऐसा ही न हो जाए?





मानपुर से मेवाड़ा सड़क का मेंटेनेंस के लिए टेंडर हो गए हैं, मैं इसे जल्दा ही शुरू करवाता हूं।
आरके जैन, महाप्रबंधक, पीएमजीएसवाय श्योपुर


Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned