सात हाईस्कूलों के पास नहीं भवन,परेशानी झेल रहे विद्यार्थी

-दूसरे स्कूलों के भवनों में असुविधा के बीच चल रहे हाईस्कूल
रायपुरा में राशि मिलने के साथ जमीन भी आंवटित,फिर भी नहींं बन सका स्कूल भवन

श्योपुर,
जिले के सात शासकीय हाईस्कूलों के पास अपने खुद के भवन नहीं है। जिसकारण यह हाईस्कूल मिडिल स्कूलों के भवनों में असुविधा के बीच संचालित हो रहे है। जिससे स्कूलों में पढऩे वाले छात्र-छात्राओ को बैठने संबंधी परेशानी भोगनी पड़ रही है। इसके बाद भी जिम्मेदार कोई ध्यान नहीं दे रहे है।
खास बात यह है कि श्योपुर के नजदीकी गांव रायपुरा का हाईस्कूल तो मिडिल स्कूल के दो कमरो में चल रहा है। जबकि रायपुरा हाईस्कूल के लिए न सिर्फ राशि मिल गई,बल्कि जमीन भी आंवटित हुई। मगर इसके बाद भी स्कूल भवन अभी तक बनकर तैयार नहीं हो सका है। यहां बताना होगा कि जिले में 43 हाईस्कूल संचालित हो रहे है। इनमें से 36 हाईस्कूलों के पास तो भवन है। मगर 7 हाईस्कूलों के पास अपने स्वयं स्कूल भवन नहीं है। जिनमें रायपुरा, राड़ेप, सलमानियां, जानपुरा, नयागांव ढोंढपुर, अर्रोदरी, बलावनी शामिल है।
नींव खुदकर रह गई,राशि का भी अता पता नहीं
शिक्षा विभाग के सूत्रों की माने तो वर्ष 2013-14 में रायपुरा,राड़ेप और सलमानियां हाईस्कूल के लिए स्कूल भवन स्वीकृत हुए। इसके लिए 53-53 लाख रुपए की स्वीकृति हुई है और पीआईयू को निर्माण एजेंसी बनाया गया। बताया गया है कि राशि स्वीकृत होने के बाद रायपुरा में स्कूल के लिए जमीन भी आंवटित हो गई। जहां स्कूल बनने के लिए नींव भी खुद गई। मगर इसके बाद भी स्कूल भवन अब तक नहीं बन सका है। राड़ेप और सलमानियां में स्कूल भवन के लिए जमीन नही मिली। जिसकारण स्कूल भवन नहीं बन सके। मगर इन भवनों के लिए आई राशि का कोई अता पता नहीं है।
चार स्कूलों के लिए नहीं मिली भवनों की स्वीकृति
बताया गया है कि जानपुरा, नयागांव ढोंढपुर, अर्रोदरी और बलावनी के शासकीय हाईस्कूल नए है। जो कुछ समय पहले ही शासन के द्वारा खोले गए है। मगर इन स्कूलों के लिए अभी तक भवनों की स्वीकृति शासन की ओर से नहीं दी गई। जिसकारण इन चारो हाईस्कूलों का संचालन गांव के ही मिडिल स्कूल के भवन में चल रहा है। मिडिल स्कूल का भवन हाईस्कूल के लिए पर्याप्त नहीं है। मगर मजबूरी हाईस्कूल का संचालन करना पड़ रहा है।

वर्जन
जिन हाईस्कूलो के पास भवन नहीं है,उनको भवन की सुविधा उपलब्ध कराने की दिशा में कार्रवाई करेगे।
प्रतिभापाल
कलेक्टर,श्योपुर

Laxmi Narayan Reporting
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned