त्रिवेणी किनारे राष्ट्रपिता को अर्पित किए श्रद्धासुमन

श्योपुर के मानपुर के निकट रामेश्वर त्रिवेणी संगम पर मनाई बापू की त्रयोदशी, बड़ी संख्या में जुटे गांधीवादी

By: jay singh gurjar

Updated: 12 Feb 2021, 08:35 PM IST


श्योपुर,
राष्टï्रपिता महात्मा गांधी की त्रयोदशी शुक्रवार को जिले के मानपुर कस्बे के निकट स्थित चंबल, बनास और सीप नदियों के संगम स्थल त्रिवेणी संगम रामेश्वर धाम पर स्मृति दिवस के रूप में आस्था के साथ मनाई गई। इस अवसर पर गांधी विचार मंच के तत्वावधान में आयोजित कार्यक्रम में उपस्थिति गांधीवादियों और स्थानीय नागरिकों ने राष्ट्रपिता को श्रद्धासुमन अर्पित किए।


त्रिवेणी संगम के किनारे जुटे गांधीवादियों ने इस अवसर पर सर्वधर्म प्रार्थना सभा के साथ बापू के प्रिय भजन प्रिय भजन वैष्णव जन तो तेने कहिए..., रघुपति राघव राजाराम..., आदि का समवेत स्वर में गायन किया गया। साथ ही उपस्थितजनों ने समाज में नशामुक्ति, सत्य और अहिंसा का संदेश देने का संकल्प लिया। इस दौरान मौजूद वक्ताओं ने कहा कि श्योपुर जिले के लिए ये गौरव की बात है कि 12 फरवरी 1948 को रामेश्वर त्रिवेणी संगम में बापू की अस्थियां विसर्जित हुई थी। तभी से यहां बीते 73 सालों से गांधी स्मृति दिवस का आयोजन होता है और आज 73वां आयोजन है। कार्यक्रम में श्योपुर विधायक बाबू जंडेल, पूर्व विद्यायकद्वय सत्यभानु सिंह चौहान और दुर्गालाल विजय, भाजपा जिलाध्यक्ष सुरेंद्र जाट, कांग्रेस जिलाध्यक्ष अतुल चौहान सहित अन्य लोग मौजूद रहे।

jay singh gurjar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned