MP ELECTION 2018: श्येापुर में कांग्रेस ने इस बार बदला चेहरा, बाबू जंडेल को दिया मौका

MP ELECTION 2018: श्येापुर में कांग्रेस ने इस बार बदला चेहरा, बाबू जंडेल को दिया मौका

Gaurav Sen | Publish: Nov, 08 2018 06:30:07 PM (IST) | Updated: Nov, 08 2018 06:30:08 PM (IST) Sheopur, Sheopur, Madhya Pradesh, India

MP ELECTION 2018: श्येापुर में कांग्रेस ने इस बार बदला चेहरा, बाबू जंडेल को दिया मौका

ग्वालियर/श्योपुर। बीते एक सप्ताह से चल रही माथापच्ची के बाद अंतत: कांग्रेस ने गुरुवार की शाम को श्योपुर विधानसभा के लिए प्रत्याशी घोषित कर दिया। तमाम अटकलों के बीच कांग्रेस ने इस बार बृजराज सिंह चौहान का टिकट काटकर नए चेहरे बाबू लाल मीणा उर्फ जंडेल को मैदान में उतारा है।पुराने चेहरे के स्थान पर नए चेहरे को भरोसा जताया है।

जंडेल पिछले तीन चुनाव बसपा के टिकट पर लड़ चुके हैं और इसी वर्ष बसपा छोडकऱ कांग्रेस में शामिल हुए हैं। अपने जातिगत वोटों के समीकरण और गत चुनावों में दूसरे नंबर पर रहने के चलते टिकट पाने में सफल रहे जंडेल के टिकट पाने में सफल रहे। बताया गया है कि पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह द्वारा जंडेल का नाम रखा गया, जिसक चलते सिंधिया के गढ़ में एक बार फिर दिग्गी ने सेंध लगाने की चर्चाएं है। वहीं सूची जारी होने और टिकट मिलने की सूचना आने के दौरान बाबू जंडेल अपने जाटखेड़ा निवास पर थे, जहां से अपने समर्थकों संग बड़ौदा रोड वाले निवास पर आए और यहां समर्थकों ने आतिशबाजी की और जश्न मनाया।

 

यह भी पढ़ें : भाजपा की तीसरी सूची में ग्वालियर चंबल संभाग का दबदबा,यहां देखें पूरी LIST

 

टिकट मिलने का कारण: जातिगत वोट और बसपा छोडकऱ कांग्रेस में शामिल होना।

 

mp election 2018 : चुनाव ड्यूटी से बचने कर्मचारी कर रहे है यह कार्य,फिर आए ये निर्देश

घटनाक्रम : किसानों के आंदोलन में सहभागिता रही।

 

MP ELECTION 2018: 16 को फाइनल रेंडमाइजेशन के बाद मशीनों में दर्ज होगा केंद्र का नाम

स्वास्थ्य सेवाओं की बदहाली मुख्य समस्या
श्योपुर विधानसभा क्षेत्र में स्वास्थ्य सेवाओं की बदहाली क्षेत्र की मुख्य समस्या है। यहां जिला अस्पताल में सुविधाएं नहीं होने से लोग राजस्थान जाते हैँ। वहीं किसानों के लिए बिजली और पानी की समस्याएं भी स्थाई सी हैं।


यह भी पढ़ें : ग्वालियर पूर्व विधानसभा क्षेत्र: स्मार्ट सिटी में शामिल हुआ क्षेत्र लेकिन न सडक़ें सुधरीं, न ही आया साफ पानी

babu jandel sheopur

तटस्थ वोटर्स का कहना है...
क्षेत्र में काफी समस्याएं, इन समस्याओं को निराकृत कराए वही बेहतर उम्मीदवार है। मतदाता भी चाहता है कि उनका प्रतिनिधि योग्य व्यक्ति चुना जाए।
कमलेश मंगल, श्योपुर

उम्मीदवार चाहे कोई भी और किसी भी पार्टी से हो। उन्हें जीतने के बाद स्वास्थ्य और मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध कराने के काम पर विशेष जोर देना चाहिए।
शीला शर्मा, श्योपुर

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned