अभियान चलाकर प्रशासन हटाएगा गांवों के रास्तों से अतिक्रमण

यदि शासन-प्रशासन की मंशा के अनुरूप धरातल पर पूरी ईमानदारी से काम हुआ तो आगामी एक पखवाड़े में गांवों में अतिक्रमण से सिकुड़े या बंद रास्ते फिर से खुल जाएंगे। ऐसा इसलिए क्योंकि गांवों में रास्तों से अतिक्रमण हटाने के लिए प्रशासन ने सबकी चाह-आसान राह अभियान चलाने का निर्णय लिया है। इसके लिए कलेक्टर ने आदेश जारी कर दिए हैं।

By: rishi jaiswal

Published: 10 Jan 2021, 11:32 PM IST

श्योपुर. यदि शासन-प्रशासन की मंशा के अनुरूप धरातल पर पूरी ईमानदारी से काम हुआ तो आगामी एक पखवाड़े में गांवों में अतिक्रमण से सिकुड़े या बंद रास्ते फिर से खुल जाएंगे। ऐसा इसलिए क्योंकि गांवों में रास्तों से अतिक्रमण हटाने के लिए प्रशासन ने सबकी चाह-आसान राह अभियान चलाने का निर्णय लिया है। इसके लिए कलेक्टर ने आदेश जारी कर दिए हैं।

कलेक्टर द्वारा बीते रोज जारी किए गए आदेश के मुताबिक ये अभियान 11 जनवरी से 25 जनवरी तक जिलेभर के गांवों में चलाया जाएगा। कलेक्टर ने जिले के पांचों तहसीलदारों (श्येापुर, बड़ौदा, विजयपुर, कराहल और वीरपुर) को जारी किए अभियान के आदेश में कहा है कि भ्रमण के दौरान यह देखा गया है कि जिले की तहसील श्योपुर, बडौदा, कराहल, बीरपुर, विजयपुर में कुछ व्यक्तियों द्वारा आम रास्तों पर अतिक्रमण कर उन्हें मौके पर संकुचित कर दिया है अथवा उन रास्तों को पूरी तरह बंद कर दिया गया है। जिसके कारण कूषकों, आमजनों, राहगीरों को निकलने में अथवा कृषकों को अपने खेतों पर पहुंचने में अत्यधिक परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। ऐसे में समस्त तहसीलदार अपने-अपने क्षेत्रांतर्गत कार्य योजना बनाकर ग्रामवार अतिक्रमण किए गए रास्तों की जानकारी संकलित करें और 11 से 25 जनवरी तक अभियान चलाएं।


तहसीलदार को देना होगा पालन प्रतिवेदन
आदेश में कहा गया है कि 11 से 25 जनवरी तक अभियान चलाकर सभी आम रास्तों की भूमियों को मप्र भू-राजस्व संहिता, 1959 एवं नवीन संशोधन में वर्णित धाराओं का उपयोग करते हुए अतिक्रमण मुक्त कराया जाए। साथ ही अभियान पश्चात प्रत्येक हल्का पटवारी से प्रमाण पत्र प्राप्त करें कि मेरे हल्के के समस्त ग्रामों के रास्तों से अतिक्रमण हटा दिया गया है एवं सभी रास्तों को अतिकमाण मुक्त करा दिया गया है। अब किसी रास्ते पर अतिक्रमण शेष नहीं है, का पालन प्रतिवेदन मय प्रमाण पत्र के इस कार्यालय में भिजवाना सुनिश्चित करें।

rishi jaiswal
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned