डॉक्टर ने लेखापाल को पीटा,विरोध में उतरे कर्मचारी,बोले-24 घंटे में डॉक्टर पर नहीं हुई कार्रवाई तो करेगे हड़ताल

-सिविल सर्जन ने कर्मचारियों से कहा-जांच के बाद करेगे कार्रवाई
-मामले की जांच के लिए बनाई समिति
जिला अस्पताल का मामला

By: Laxmi Narayan

Published: 19 Mar 2020, 07:01 AM IST

श्योपुर,
जिला अस्पताल में बुधवार सुबह उस समय हंगामा हो गया,जब एक डॉक्टर और लेखापाल के बीच विवाद हो गया। इस दौरान डॉक्टर ने लेखापाल के कक्ष में जाकर उसकी मारपीट कर दी। इसके पूर्व डॉक्टर ने एसएनसीयू के एक कर्मचारी की कॉलर पकड़ ली। लेखापाल की मारपीट के मामले में जिला अस्पताल के सभी कर्मचारी एक जुट होकर जिला अस्पताल के बाहर आ गए और डॉक्टर पर कार्रवाई की मांग को लेकर नारेबाजी करने लगे। कर्मचारियों का कहना था कि मारपीट करने वाले डॉक्टर की तानाशाही बढ़ती जा रही है।
जिला अस्पताल के गेट पर एक जुट हुए कर्मचाारियों ने नारेबाजी करने के बाद सिविल सर्जन को ज्ञापन सौंपकर डॉक्टर के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। साथही चेतावनी दी कि 24 घंटे के भीतर डॉक्टर के खिलाफ कार्रवाई नहीं की गई तो जिला अस्पताल के सभी कर्मचारी काम बंद कर हड़ताल पर चले जाएंगे। लेखापाल के समर्थन में जिला अस्पताल के डॉक्टर संजय जैन सहित अन्य डॉक्टर भी आ गए। सिविल सर्जन डॉ आरबी गोयल ने कर्मचारियों को विश्वास दिलाया कि इस मामले में जांच के बाद कार्रवाई करेगे। जांच के लिए समिति गठित कर दी है।
यह था मामला
जिला अस्पताल के लेखापाल रघुनंदन गोयल के मुताबिक बुधवार को वह सुबह 11 बजे लेखा शाखा कक्ष में रोज की भांति काम कर रहा था। तभी लेखा शाखा कक्ष में एसएनसीयू में पदस्थ डॉ राहुल तोमर पहुंचे और मुझे 100 रुपए देकर बोले कि तुम मेरी सैलरी निकालते हो। पैसे लेने से इनकार करते हुए लेखापाल ने कहा कि मै पैसे नहीं लेता। इसके बाद दोनो के बीच कहासुनी हो गई। गुस्से में आकर डॉ तोमर ने लेखापाल के साथ मारपीट कर दी। वहां मौजूद अन्य कर्मचारियों ने बीच बचाव किया।
एसएनसीयू के कर्मचारी बोले-हमारे साथ भी करते है अभद्रता
लेखापाल की मारपीट करने वाले डॉ राहुल तोमर के विरोध में उतरे जिला अस्पताल के कर्मचारियों के साथ एसएनसीयू के कर्मचारी भी आ गए। एसएनसीयू के कर्मचारियों का कहना था कि हमारे साथ भी डॉ तोमर अभद्रता करते है। एसएनसीयू के कर्मचारी मुकेश ने बताया कि डॉ तोमर ने बुधवार सुबह मेरा कॉलर पकड़ लिया। जबकि स्टॉप नर्स रंजनापाल ने बताया कि डॉक्टर तोमर द्वारा कर्मचारियों के साथ अभद्रता करना आए दिन की बात हो गई है।
लेखापाल ने एफआईआर के लिए भी दिया आवेदन
लेखापान रघुनंदन गोयल ने अपनी साथ हुई मारपीट मामले में एफआईआर के लिए कोतवाली थाने में आवेदन दिया है। जिसमें पूरी घटना बताते हुए डॉ तोमर के खिलाफ पुलिस प्रकरण दर्ज करने की मांग की है।
जांच के लिए बनाई दो सदस्यीय समिति
इस मामले की जांच के लिए सिविल सर्जन डॉ आरबी गोयल ने दो सदस्यीय जांच समिति बना दी है। जिसमें डॉ एसएन बिंदल और डॉ राजेश शाक्य को शामिल किया है। यह जांच समिति पूरे मामले की जांच कर रिपोर्ट सिविल सर्जन का सौपेगी।
वर्जन
मामले की जांच के लिए दो सदस्यीय समिति गठित कर दी है। जांच रिपोर्ट आने के बाद मामले में नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी।
डॉ आरबी गोयल
सिविल सर्जन,जिला अस्पताल,श्योपुर

डॉक्टर ने नहीं उठाया फोन
डॉ राहुल तोमर से उनका पक्ष जानने के लिए उनके मोबाइल नंबर 88711-10742 पर कई बार कॉल किया।मगर उन्होंने कॉल रिसीव नहीं किया।

Laxmi Narayan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned