दर्शन करने पहुंचे श्रद्धालुओं को महंत ने रोका, नहीं माने तो हडक़ाया

- कराहल स्थित नौनेर सरकार हनुमान मंदिर पर हर शनिवार को होने वाला भंडारा नहीं हुआ

By: Anoop Bhargava

Published: 05 Apr 2020, 11:07 AM IST

श्योपुर/कराहल
कोरोना वायरस के चलते लगे लॉक डाउन में कराहल स्थित नौनेर सरकार हनुमान मंदिर पर शनिवार को पहली बार मंदिर के द्वार भक्तों के लिए बंद कर दिए गए। दर्शन करने पहुंचे श्रद्धालुओं को मंदिर के महंत ने पहले तो समझाया लेकिन जब श्रद्धालु दर्शन करने की जिद करने लगे तो महंत ने डंडा हाथ में लेकर उन्हें हडक़ाया। मंदिर पर सात साल में पहली बार शनिवार को होने वाला भंडारा नहीं किया गया।

नौनेर सरकार हनुमान मंदिर पर हर शनिवार को श्रद्धालुओं द्वारा भंडारे का आयोजन किया जाता है। लेकिन इस बार भंडारा नहीं हो सका। मंदिर के महंत गोपाल दास महाराज ने शनिवार को मंदिर को पूरी तरह से बंद रखने का फैसला लिय।

शनिवार को जब मंदिर पर भंडारा कराने के लिए श्रद्धालु एकत्रित होने लगे तो पहले महंत गोपाल दास ने मंदिर के मुख्य द्वार को बंद कर दिया और उस पर ताला जड़ दिया और श्रद्धालुओं से घरों पर जाने की अपील करते हुए उन्हें घर से बाहर बिल्कुल ना निकलने की सलाह दी, लेकिन जब भक्तों ने जिद की तो महंत हाथों में डंडा लेकर भक्तों के पीछे दौड़ पड़े।

महंत भक्तों की समझाइश देने और उनको हडक़ाए जाने का वीडियो शनिवार को सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हुआ। महंत गोपाल दास महाराज का कहना है कि देश में जब तक आपात की स्थिति है तब तक मंदिर पूरी तरह से भक्तों के लिए बंद रहेगा।

Anoop Bhargava Bureau Incharge
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned