कुपोषित बच्ची की मां बोली..एनआरसी में नहीं मिलता भरपेट खाना

कुपोषित बच्ची की मां बोली..एनआरसी में नहीं मिलता भरपेट खाना

Anoop Bhargava | Publish: Jul, 11 2019 08:18:46 PM (IST) Sheopur, Sheopur, Madhya Pradesh, India

- श्योपुर एनआरसी में दो दिन रहने के बाद बच्ची को वापस गांव ले गई मां
- इधर छह आंगनबाड़ी कार्यकर्ता बर्खास्त, आठ समूह का अनुबंध समाप्त

श्योपुर
जिला अस्पताल की एनआरसी में भरपेट खाना नहीं मिलने पर कुपोषित बच्चे को लेकर मां वापस गांव लौट गई। उसका कहना था कि जब एनआरसी में भरपेट खाना नहीं मिलता तो यहां रहने से क्या फायदा। दरअसल सेक्टर सेसई पुरा के गांव सिलोरी पहुंचे महिला एवं बाल विकास अधिकारी नितिन मित्तल व उनकी टीम ने कुपोषित बच्ची उमा की मां फलौदी, पिता गुमान सिंह आदिवासी को उसे एनआरसी में भर्ती कराने के लिए बढ़ी मुश्किल से राजी किया था। 9 जुलाई को फलौदी बेटी उमा को लेकर एनआरसी श्योपुर पहुंच गई। 2 दिन एनआरसी में रहने के बाद वह बेटी को एनआरसी से लेकर गांव लौट गई।
यह जानकारी आंगनबाड़ी कार्यकर्ता को लगी तो उसने परियोजना समन्वयक व सेक्टर प्रभारी सुपरवाइजर दीपक गौर को सूचना दी। सूचना मिलते ही दीपक गौर फलोदी बाई से मिलने पहुंच गए। उन्होंने उससे पूछा कि तुम उमा को एनआरसी श्योपुर से वापस क्यों लेकर आईं। इस पर उमा की मां फलौदी ने बताया कि वहां समय पर खाना नहीं दिया जाता है। स्टॉफ द्वारा अभद्रता की जाती है। इधर चंद्रपुरा से एक कुपोषित बच्ची करिश्मा को पुलिस सहायता से जिला अस्पताल एनआरसी में भर्ती कराया।
आंगनबाड़ी कार्यकर्तओं पर गिरी गाज, समूहों का अनुबंध समाप्त
छह आंगनबाड़ी कार्यकर्ता की सेवा समाप्ति करने के साथ ही 8 स्वसहायता समूह का अनुबंध समाप्त कर दिया गया है। बीते दिन कलेक्टर बसंत कुर्रे के निरीक्षण के दौरान आंगनबाड़ी केंद्रों का संचालन ठीक तरह से नहीं करने के कारण आगनबाड़ी केंद्र परतवाड़ा बी की कार्यकर्ता प्रयागा बाई, आगनबाड़ी केंद्र सरारी ए की कार्यकर्ता गुलाब बाई, लम्बे समय से आगनबाड़ी केंद्र पर अनुपस्थित मिलने पर आंगनबाड़ी केंद्र ककरा की उप कार्यकर्ता सुनीता पटेलिया, आंगनबाड़ी केंद्र लाटावानी की कार्यकर्ता धोड़ा बाई, कादरखेड़ा के आगनबाड़ी केंद्र पर पदस्थ आंगनबाड़ी कार्यकर्ता गायत्री गुर्जर, आंगनबाड़ी केंद्र बाढ़ की कार्यकर्ता पप्पी आदिबासी को पद से पृथक कर दिया गया है। वहं आंगनबाड़ी केन्द्र पर भोजन व्यवस्था ठीक नहीं रखने पर परतवाड़ा, सरारी, बाढ़ , सिलोरी, पठारी , टिकटोली, हथेड़ी, सनखरा में संचालित स्वसहायता समूह का अनुबंध समाप्त किया गया ैहै।
पुलिस के सहयोग से दो कुपोषित बच्चों को कराया भर्ती
महिला एवं बाल विकास परियोजना कराहल सेक्टर सेमल्दा आंगनवाड़ी केंद्र मायापुरा में 2 कुपोषित बच्चों को लेने के लिए पहुंची टीम की समझाइश के बाद मां बेटे अन्नू पुत्र जनवेद व विक्रम को एनआरसी में भर्ती कराने के लिए तैयार नहीं हुई। तब टीम ने पुलिस का सहयोग लेकर बच्चों को एनआरसी कराहल में भर्ती कराया।
विजयपुर में छह बच्चों को कराया एनआरसी में भर्ती
विजयपुर परियोजना एक के परियोजना अधिकारी राघबेन्द्र धाकड़, पर्यवेक्षक चित्रा त्रिबेदी, दिब्या गुप्ता, धर्मेन्द्र परमार व महात्मा गांधी सेवा आश्रम के ब्लॉक समन्वयक मनीष गोयल ने अगरा सेक्टर की आंगनबाडिय़ों का निरीक्षण किया। इस दौरान 6 अति कमवजन के बच्चे मिले। इनमें से तीन बच्चों को काफी मशक्कत के बाद एनआरसी तक पहुंचाया गया। यहां से एक बच्चे को श्योपुर के लिए रैफर किया गया।

 

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned