समय गुजरा, फिर भी पुल का काम अधूरा

मामला दांतरदा-जैनी सड़क मार्ग पर बागड़ नदी पर बनने वाले पुल का
पुल के धीमे निर्माण पर क्षेत्र के लोग नाराज, बोले बारिश में फिर उठानी पड़ेगी परेशानी

दांतरदा. दांतरदा-जैनी सड़क मार्ग पर स्थित बागड़ नदी पर बन रहे पुल के निर्माण की समयावधि निकल गई है। मगर इसके बाद भी पुल का निर्माण कार्य अभी तक पूरा नहीं हो सका है। पुल निर्माण की धीमी गति को देखकर क्षेत्र के लोगों में नाराजगी देखी जा रही है। लोगों का कहना है कि पुल का निर्माण इतनी धीमी गति से होगा, तो यह पुल बारिश के पहले बनकर तैयार नहीं होगा। ऐसे में बारिश के दिनों में फिर से परेशानी झेलनी पड़ेगी।
उल्लेखनीय है कि दांतरदा-जैनी मार्ग पर तलावदा के निकट बागड़ नदी पड़ती है। बारिश के दिनों में चंबल नदी उफान पर आने से बागड़ नदी पर बनी पुलिया पानी में डूब जाती है। जिस कारण दर्जनभर गांवों के लोगों की राह रुक जाती है। क्षेत्र के लोगों की मांग पर शासन द्वारा बागड़ नदी पर पुल निर्माण की स्वीकृति दी गई। पुल की स्वीकृति के बाद ब्रिज कॉर्पोरेशन विभाग ने पुल निर्माण शुरू करवा दिया है। मगर ठेकेदार की लापरवाही से पुल का निर्माण धीमी गति से चल रहा है।


दिसंबर तक पूरा हो जाना था पुल का काम


विभागीय सूत्रों की मानें तो इस पुल का निर्माण कार्य दिसंबर 2019 तक पूरा होना चाहिए था। मगर समय अवधि निकल जाने के बाद भी पुल का निर्माण पूरा नहीं हो सका है। क्षेत्र के लोगों का कहना है कि पुल का काम अभी आधा ही कंपलीट हुआ है। जिसकी वजह ठेकेदार की लापरवाही है। ठेकेदार की लापरवाही के कारण पुल का निर्माण धीमी गति से चल रहा है। यदि निर्माण इस गति से चलता रहा है तो आगामी बारिश के दिनों में भी परेशानी भोगने को विवश होना पड़ेगा।


15 मीटर ऊंचा होगा पुल

बताया गया है कि बागड़ नदी पर बनने वाले पुल की लंबाई 40 मीटर रहेगी, जबकि ऊंचाई करीब 15 मीटर रहेगी। इस पुल के निर्माण पर एक करोड़ 60 लाख रुपए की राखि खर्च होगी।


इन गांवों को मिलेगी सुविधा


बागड़ नदी का पुल बनने के बाद दांतरदा-जैनी मार्ग पर आने वाले ग्राम आवनी, टोंगनी, जवासा, सियापुर, सिरसौद, तलावदा, ऊंचाखेड़ा, बिचपुरी, साडा का पाड़ा, जैनी, बेरामपुरा आदि के वाशिंदों को राहत मिलेगी ही, साथ ही मानपुर और ढोढर क्षेत्र के वाशिंदों को भी सवाईमाधोपुर जाने के लिए भोगिका का लंबा चक्कर नहीं काटना पड़ेगा।

पुल का काम कंपलीट करने की समय अवधि निकल गई है। ठेकेदार ने पुल का काम मार्च 2020 तक कंपलीट करने की बात कही है। यदि काम मार्च तक पूरा नहीं होगा तो ठेकेदार पर कार्रवाई करेंगे।
एमएस जादौन, कार्यपालन यंत्री, ब्रिज कॉर्पोरेशन श्योपुर

फैक्टफाइल
15 मीटर ऊंचा बनेगा पुल
40 मीटर लंबा बनेगा पुल
01 करोड़ 60 लाख होंगे खर्च
31 दिसंबर तक पूरा करना था काम

महेंद्र राजोरे Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned