हड़ताल का दिखा असर, धनिया सौ के पार तो टमाटर दोगुना महंगा

ट्रकोंं की हड़ताल और लगातार बारिश से बढ़े सब्जियों के भाव, बिगड़ा रसोई का बजट








By: Gaurav Sen

Published: 24 Jul 2018, 02:49 PM IST

श्योपुर। पिछले चार दिनों से चल रही ट्रक ट्रांसपोर्टरों की हड़ताल और लगातार हो रही बारिश का असर सब्जियों पर पड़ रहा है। यही वजह है कि सब्जियों के दामों में अचानक इजाफा हो गया है। जिससे हरा धनिया जहां 100 के पार पहुंच गया हैं तो टमाटर व अन्य सब्जियों के दाम भी डेढ़ से दोगुना बढ़ गए हैं। जिसके चलते घरों की रसोई का बजट गड़बड़ा गया है।


सब्जी विक्रेताओं के मुताबिक श्योपुर में थोक सब्जी की आवक जयपुर, कोटा और ग्वालियर से होती है। हालांकि श्योपुर में बड़े ट्रकों से सब्जी की सप्लाई नहीं होती है और छोटे वाहन आदि से सब्जी आती है, लेकिन बड़े शहरों में ही सब्जी की आवक कम होने से यहां भी सब्जी की आवक घट गई है। वहीं दूसरी ओर लगातार हो रही बारिश और नदी नाले उफान पर आने से भी सब्जी की आवक पर असर पड़ रहा है। इन दोनों ही कारणों से शहर की दोनों ही सब्जी मंडियों में सब्जियों के दाम डेढ़ से दो गुना बढ़ गए हैं। सब्जी के थोक व्यापारियों के मुताबिक हड़ताल और बारिश के सब्जियों की आवक में 50 फीसदी तक कमी आई है।


लगातार बारिश से गल गया हरा धनिया
ग्रामीण क्षेत्र में लगा होने के कारण शहर की सब्जी मंडी में काफी मात्रा में सब्जियों की आपूर्ति स्थानीय सब्जी उत्पादकों से होती है। लेकिन लगातार बारिश से सब्जियों के उत्पादन पर असर पड़ रहा है। हरा धनिया तो बारिश से गल गया है, जिसके कारण दाम 40 रुपए प्रति किलो से बढ़कर 100 रुपए किलो तक पहुंच गए हैं। वहीं लौकी, पालक, हरी मिर्ची, आदि सब्जियों की भी यही स्थिति है।

हड़ताल और बारिश के चलते सब्जियों की आवक घट गई है, जिसके चलते दाम बढ़ गए हैं। पिछले एक सप्ताह में सब्जियों के दाम डेढ़ से दो गुना तक बढ़ गए हैं।
धमेंद्र चौहान, थोक सब्जी व्यापारी श्योपुर


सब्जियों के दामों की स्थिति
सब्जी पिछले सप्ताह इस सप्ताह
आलू 20 30
टमाटर 20 40
करेला 20 40
हरी मिर्ची 20 30
धनिया 40 100
प्याज 10 20
लौकी 20 30
गोभी 80 120
पालक 20 30
नोट : भाव प्रतिकिलो में

Gaurav Sen
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned