आदिवासी महिलाओं ने जनपद कार्यालय घेरा,  हाइवे किया जाम


जनपद सीइओ ने कहा.. दस दिन में करेंगे पानी की समस्या का निराकरण

Tribal women surrounded the district office, blocked the highway, news in hindi, mp news, sheopur news

श्योपुर. कराहल जनपद कार्यालय से सटी इंद्रा कॉलोनी आदिवासी बस्ती की एक सैंकड़ा आदिवासी महिलाओं ने पिछले दस माह बनी पानी की समस्या को लेकर खाली बर्तनों के साथ जनपद कार्यालय का घेराव किया। इस दौरान महिलाओं ने पीने के पानी की समस्या का निराकरण करने की मांग जनपद सीइओ से की। महिलाओं ने बताया कि नलों में पानी नहीं आ रहा है। हैंडपंप सूख गए हैं। इस पर जनपद सीइओ एसएस भटनागर ने दस दिन में पीने के पानी की समस्या का निराकरण करने की बात कही। यह सुन महिलाएं बिफर गई और बोली दस माह में तीन बार जनपद का घेराव कर चुके हैं। समस्या का समाधान नहीं हुआ।
महिलाओं ने कहा कि हमारे घरों में एक बंूद पानी नही है। दस दिन और प्यासे मरेंगे। गुस्साई महिलाओं ने जनपद सीइओ भटनागर की एक नहीं मानी और उनके सामने ही हाइवे पर खाली बर्तन रखकर चक्काजाम कर दिया। करीब आधा घंटे तक जाम लगने के बाद जनपद सीइओ ने टैंकर भेजने का आश्वसन दिया और दो दिन स्थाई हल करने को कहा इसके बाद महिलाओं ने जाम खोला। इसके बाद भी टैंकर से पानी शाम तक नहीं। कराहल जनपद के पास की आदिवासी इंद्रा कॉलोनी में दस माह से पीने के पानी की समस्या बनी हुई है। एक सैंकड़ा आदिवासी परिवार इस समस्या से जूझ रहे हैं।

सीइओ बोले दो दिन होगी व्यवस्था
जनपद का घेराव कर रही आदिवासी महिलाओं को गुस्सा आया तो जनपद सीइओ भटनागर ने ग्राम पंचायत सचिव को बुलाकर दस दिन में पानी की समस्या को हल करने के निर्देश दिए। इसके बाद वह जनपद कार्यालय में चले गए महिलाएं पानी के खाली बर्तनों को लेकर अपनी समस्या बताती रही। आदिवासी महिलाओं सीइओ से आवेदन की प्राप्ति की मांग की तो उन्होंने इनकार कर दिया। आदिवासी महिलाएं को गुस्सा आ गया और उन्होंने हाइवे पर जाम लगा दिया। इसके बाद सीइओ ने मोके पर पहुंचकर आवेदन पर प्राप्ति दी।

दस माह में तीसरी बार घेरी जनपद
दस माह में तीसरी बार पानी की समस्या को लेकर महिलाओं ने जनपद का घेराव किया। इसके बाद स्थाई हल जनपद, ग्राम पंचायत व सीइओ नहीं कर पाए है। दस माह से समस्या से जूझ रही महिलाओं ने शनिवार को पहले जनपद घेरी और उसके बाद हाइवे पर जाम लगा दिया।

संजय तोमर Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned