95 करोड़ में बनेंगी 43 किमी की दो सडक़ें, टेंडर प्रक्रिया शुरू

जिले में बड़ौदा से मसावनी और विजयपुर-मोहना रोड से सहसराम की दो सडक़ें होंगी अपग्रेड

By: rishi jaiswal

Published: 28 Jan 2021, 11:02 PM IST

श्योपुर. कई बरसों से जर्जर सडक़ से दो-चार हो रहे विजयपुर और बड़ौदा क्षेत्र के आधा सैकड़ा गांवों के वाशिंदों को जल्द ही टू-लेन सडक़ का सपना साकार होगा। ऐसा इसलिए क्योंकि एमपीआरडीसी ने बड़ौदा से मसावनी और विजयपुर-मोहना रोड से सहसराम की सडक़ों के अपग्रेडेशन के लिए टेंडर प्रक्रिया शुरू कर दी है। बताया गया है कि जल्द ही दोनों सडक़ों का निर्माण शुरू हो जाएगा।

मध्यप्रदेश सडक़ विकास प्राधिकरण (एमपीआरडीसी) द्वारा पिछले दिनों शुरू की गई इन सडक़ों की टेंडर प्रक्रिया के मुताबिक बड़ौदा क्षेत्र में बड़ौदा से मसावनी की 20 किलोमीटर लंबी और विजयपुर क्षेत्र में विजयपुर-मोहना रोड से सहसराम (बिनेगा तिराहे से खुरजान तक) की 23 किलोमीटर लंबी कुल 43 किमी लंबी दोनों सडक़ों का निर्माण लगभग 95 करोड़ रुपए की लागत से होगा। दोनों ही सडक़ें टू-लेन की बनेंगी, जिसमें सात मीटर की चौड़ाई में डामरीकरण होगा। सडक़ निर्माण के लिए एमपीआरडीसी ने पिछले दिनों नापजोख की और टेंडर प्रक्रिया शुरू की है। बताया गया है कि जल्द ही टेंडर प्रक्रिया पूरी हो जाएगी और निर्माण एजेंसी नियुक्त किए जाने बाद आगामी दो माह में धरातल पर कार्य प्रारंभ हो जाएगा।

बड़ौदा और विजयपुर के इन गांवों के लोगों को मिलेगा सडक़ों का लाभ
दोनों सडक़ों का अपग्रेडेशन होने के बाद बड़ौदा और विजयपुर क्षेत्र के लगभग आधा सैकड़ा गांवों के 50 हजार से अधिक वाशिंदों को लाभ मिलेगा। बड़ौदा से मसावनी की सडक़ बनने से जहां बड़ौदा नगर सहित सडक़ किनारे के रीझा, नयागांव, बावड़ीचापा, सलमान्या, सरजूपुरा, बछेरी और मसावनी को तो लाभ होगा ही साथ ही आसपास के दो दर्जन गांव भी इस पर सरपट दौड़ेंगे। वहीं विजयपुर-मोहना रोड से सहसराम की सडक़ बनने के बाद बिनेगा, सेहुला, खुर्रका, फरारा, सहसराम, धोंधा, कुसवानी, बुढ़ेरा, खुरजान, नितनवास आदि सहित दो दर्जन गांवों के ग्रामीण लाभान्वित होंगे।

बारिश में बढ़ जाती है मुसीबत
बड़ौदा से मसावनी की सडक़ बनाने की मांग बीते पांच सालों से उठ रही है। बारिश के दिनों में तेा इस सडक़ पर वाहन तो दूर पैदल निकलना भी मुश्किल हो जाता है। जिसके चलते कई गांवों के रास्ते बारिश में बंद रहते हैं। यही नहीं इस मार्ग पर गेहूं खरीदी का सलमान्या सायलो केंद्र भी स्थापित है, जहां अप्रैल-मई में सैकड़ों ट्रैक्टर-ट्रॉली गेहूं लेकर आते हैं, लेकिन सडक़ की हालत बदहाल होने से कई बार हादसे हो चुके हैं। ऐसे में सडक़ बनने से काफी लाभ होगा।

दो-तीन माह में शुरू हो जाएगा काम
श्योपुर जिले में बड़ौदा से मसावनी और विजयपुर-मोहना से सहसराम की सडक़ों की टेंडर प्रक्रिया चल रही है। दोनों सडक़ों का निर्माण टू-लेन होगा और आगामी 2-3 माह में धरातल पर भी काम शुरू हो जाएगा।
एनके बर्वे, संभागीय प्रबंंधक, एमपीआरडीसी ग्वालियर

rishi jaiswal
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned