कुवैत से आया युवक, डॉक्टर ने दवाई देकर घर भेज दिया

कोरोना के हाइअलर्ट के बीच जिला अस्पताल के डॉक्टरों की गंभीर लापरवाही, युवक ने एसडीएम को दी जानकारी तो सीएमएचओ को किया निर्देशित

By: jay singh gurjar

Published: 19 Mar 2020, 08:36 PM IST

श्योपुर,
कोरोना वायरस को लेकर जहां एक ओर पूरा देश हाइअलर्ट पर है, वहीं श्योपुर स्वास्थ्य विभाग के अलर्टनेस के दावे कागजी साबित हो रहे हैं। इसकी बानगी है कुवैत से लौटा एक युवक, जो सर्दी-जुकाम होने पर जिला अस्पताल में उपचार के लिए पहुंचा तो वहां मौजूद डॉक्टरों ने गंभीरता दिखाना तो दूर बल्कि तीन की दवाई देकर घर भेज दिया। कोरोना के ऐसे हाइअलर्ट में जिला अस्पताल में डॉक्टरों के रिस्पांस सही नहीं मिलने पर युवक ने एसडीएम श्योपुर रूपेश उपाध्याय को इसकी जानकारी तो एसडीएम ने सीएमएचओ डॉ.एआर करोरिया को निर्देशित किया।

श्योपुर निवासी युवक नईमुद्दीन कुवैत में काम करते हैं। गत 14 मार्च को वे कुवैत से आए। हालांकि एयरपोर्ट पर ही उनकी स्क्रीनिंग हो चुकी थी और उनमें कोरोना के कोई लक्षण नहीं मिले। लेकिन बीते रोज उन्हें सर्दी जुकाम हुआ तो वे मंगलवार की रात आठ बजे के आसपास जिला अस्पताल पहुंचे और डॉक्टर को दिखाया। हालांकि नईमुद्दीन ने अस्पताल के डॉक्टर को कुवैत से लौटने आदि की सारी चीजें बताई, बावजूद उसके डॉक्टर ने कोई गंभीरता दिखाने के बजाय तीन दिन की दवाई लिखकर वापिस भेज दिया। जिससे अस्पताल के डॉक्टरों की लापरवाही तो नजर आई ही, साथ ही कोरोना के अलर्ट के तमाम दावों की पेाल भी खुल गई। बुधवार को युवक नईमुद्दीन ने इस संबंध में एसडीएम श्योपुर को सूचना दी। क्योंकि अभी दो दिन पूर्व ही एसडीएम उपाध्याय ने बोहरा बाजार में लोगों को जागरुक करने के लिए पहुंचे थे और निर्देश दिए थै कि कुवैत या अन्य जगह से कोई आए तो तत्काल उसकी सूचना प्रशासन को दी जाए। युवक की सूचना पर एसडीएम ने गंभीरता से सीएमएचओ केा निर्देश देकर युवक को निगरानी में रखने के निर्देश दिए।

कुवैत से लौटे एक युवक नईमुद्दीन ने मुझे बताया है कि अस्पताल में डॉक्टरों ने कोई गंभीरता नहीं दिखा और दवाई देकर वापिस भेज दिया। ऐसे हाइअलर्ट में ये गंभीर लापरवाही है, मैंने इस संबंध में सीएमएचओ को निर्देशित किया है।
रूपेश उपाध्याय
एसडीएम, श्योपुर

मैं 14 मार्च को कुवैत से आया हूं। हालांकि एयरपोर्ट पर सारी जांचें हो गई हैँ और कोई लक्षण नहीं मिले। लेकिन सर्दी जुकाम होने और ऐहतियात के तौर पर मैं अस्पताल में दिखाने गया तो वहां कोई गंभीरता नहीं दिखी।
नईमउद्दीन
कुवैत से लौटने वाले युवक

jay singh gurjar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned