डेढ़ लाख रुपए लेकर युवक ने चंबल पुल से लगाई छलांग,खरोंच भी नहीं आई

डेढ़ लाख रुपए लेकर युवक ने चंबल पुल से लगाई छलांग,खरोंच भी नहीं आई

Laxmi Narayan | Publish: Apr, 17 2019 09:12:42 PM (IST) Sheopur, Sheopur, Madhya Pradesh, India

-खुद तैरकर बाहर निकला युवक बोला मुझे मेरे समाज के कुछ लोग करते है प्रताडि़त,इसलिए कूदा नदी में
-पुलिस की डायल 100 गाड़ी युवक को लाई जिला अस्पताल,

दांतरदा/श्योपुर
चंबल नदी पुल से बुधवार को एक युवक ने नदी में छलांग लगा दी। घटना दोपहर करीब एक बजे की है। नदी में कूदने के बाद युवक खुद ही तैर कर बाहर निकल आया। जिसे खरोंच भी नहीं आई। युवक के पास डेढ ़लाख रुपए भी थे। युवक का आरोप है कि मुझे मेरे ही समाज के गांव के कुछ लोग प्रताडि़त करते है,उनकी प्रताडऩा से तंग आकर मैने चंबल नदी में छलांग लगाई है। पुलिस ने युवक को जिला अस्पताल में दाखिल कराया गया। साथही युवक के आरोपों की जांच पड़ताल शुरु कर दी है।
आवदा थाना क्षेत्र के ग्राम ढोंढपुर निवासी दुलीचंद 48 वर्ष पुत्र प्रभुलाल जाटव बुधवार दोपहर को बाइक से चंबल नदी पुल पर पहुंचा। जहां उसने बाइक को पुल पर खड़ा कर दिया और पुल से नदी में छलांग लगा दी। यह दृश्य वहां से गुजर रहे लोगो ने देखा तो इसकी सूचना सामरसा पुलिस को दी। जब तक सामरसा पुलिस मौके पर पहुंची,तब तक चंबल नदी में कूदा दुलीचंद खुद ही तैर कर बाहर निकल आया। जिसके खरोंच भी नहीं आई। पुलिस ने उसकी बाइक को सामरसा चौकी पर रखवाया और उसे जिला अस्पताल भिजवाया।
युवक बोला असहनीय हो गई प्रताडऩा,इसलिए लगाई छलांग
चंबल नदी से बाहर निकले दुलीचंद बैरवा ने बताया कि गांव में रहने वाले मेरे ही समाज के कुछ लोग मुझे प्रताडि़त करते है। उनकी प्रताडऩा अब सहनीय हो गई। जिसकी शिकायत पुलिस को भी की गई। मगर मेरी कोई सुनवाई नहीं हुई। इसलिए चंबल नदी में छलांग लगा दी। दुलीचंद ने पुलिस को प्रताडि़त करने वाले लोगों के नाम बताए। साथही उनके खिलाफ कार्रवाई किए जाने की मांग की।
चने की फसल बेचने पर मिले डेढ़ लाख रुपए
चंबल नदी में कूदने वाले दुलीचंद के पास डेढ़ लाख रुपए रखे थे। जो उसे चने की फसल बेचने पर मिले थे। बताया गया है कि दुलीचंद दूसरे के खेत को भत्ते पर लेकर खेती करता है। नदी में कूदने के दौरान डेढ़ लाख रुपए भीग गए थे। पुलिस ने दुलीचंद को जिला अस्पताल पहुंचाने के बाद उसके रुपयों को परिजनों की मौजदूगी में वापस लौटा दिए।
कोई नहीं आगे पीछे
बताया गया है कि दुलीचंद बैरवा के आगे पीछे कोई नहीं है। क्योंकि उसके माता पिता अब इस दुनिया में नहीं है। जबकि उसकी शादी हुई नहीं।इसलिए उसके बीबी-बच्चे भी नहीं है।
वर्जन
चंबल नदी में कूदा युवक सकुशल बाहर है। जिसे जिला अस्पताल भिजवा दिया। उसके पास डेढ़ लाख रुपए भी थे। युवक के नदी में कूदने के कारणों की जांच करवा रहे है।
रामतिलक मालवीय
एसडीओपी,श्योपुर

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned