पानी ले रहा जान: तालाब में डूबने से फिर हुई दो लोगों की मौत

एक माह में 10 लोगों की ताल-तलैया में डूबने से जा चुकी है जान।

By: shatrughan gupta

Published: 17 Oct 2020, 07:12 PM IST

शिवपुरी/बदरवास. जिले के बदरवास थाना क्षेत्र में बीते 24 घंटे में फिर दो लोगों की पानी में डूबने से मौत हो गई। मरने वालों में एक आठ साल का मासूम बालक भी शामिल है। बीते एक माह में बदरवास में पानी में डूबने से 10 लोगों की जान जा चुकी है। इस बार शिवपुरी जिले में भले ही औसत सामान्य बारिश न हुई हो, लेकिन कोलारस क्षेत्र में सबसे अधिक बारिश होने की वजह से भरे ताल-तलैया में डूबने से लोगों की मौतें हो रही हैं। बदरवास थाना क्षेत्र के ग्राम एजवारा निवासी राजकुमार (34) पुत्र गोपाल यादव शुकवार को अपनी भैंस चराने के लिए गया था और देर शाम तक जब वह वापस नहीं आया तो परिजन उसकी तलाश में निकले। तलाश के दौरान जब परिजन ओडेरा के तालाब पर पहुंचे तो वहां राजकुमार के कपड़े किनारे पर रखे मिले। रात में ही परिवारजनों सहित ग्रामवासियों ने राजकुमार की तलाश शुरू कर दी, लेकिन अंधेरा हो जाने की वजह से तलाशी अभियान नहीं चल पाया। शनिवार सुबह रेस्क्यू टीम ने ओडेरा तालाब में जब पतारसी शुरू की तो दो घंंटे की मशक्कत के बाद राजकुमार की लाश तालाब से मिल गई।

कुएं में डूबने से हुई बालक की मौत
बदरवास के ग्राम बारई में रहने वाला रामसेवक (10) पुत्र वीरेंद्र कुशवाह शनिवार सुबह 10 बजे अपने दोस्तोंं के साथ गांव के कुएं में नहाने गया था। रामसेवक को तैरना आता था, इसलिए कुएं में कूदने के दौरान उसके दोस्तों को यह लगा कि वह अभी ऊपर आ जाएगा, लेकिन वह काफी देर तक बाहर नहीं निकला। तब उसकी तलाश शुरू की गई तो बेसुध हालत में मिला। लोग उसे लेकर अस्पताल पहुंचे, जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया।

बीते एक माह में इन लोगों की भी हो चुकी है डूबने से मौत

- बीते 17 सितंबर को बदरवास ग्राम बरोदिया के तालाब में डूबने से बलिया जाटव (55), रोहित (7) पुत्र राजकुमार जाटव व राज (5) पुत्र राजकुमार जाटव की मौत हो गई थी। मृतक दोनों बच्चे सगे भाई व वृद्धा उनकी दादी थी।
- 19 सितंबर को बदरवास के मुढ़ेरी के तालाब में डूबने से लक्ष्मी पुत्री शंकर पटेलिया तथा अजय पुत्र अनिल पटेलिया की मौत हो गई थी।
- 1 अक्टूबर को मुढ़़ेरी में घर के पीछे बने तालाब में 8 वर्षीय बालक आकाश पुत्र महेश पटेलिया की मौत हो गई थी। मृत हुआ बालक अपने माता-पिता का इकलौता बेटा था।
- 14 अक्टूम्बर को पीरोठ में देवस्थान के पास तालाब में डूबने से आठ वर्षीय अनुराग पुत्र पवन कुशवाह की भी मौत हो चुकी है।

जिले में सबसे अधिक हुई बारिश
शिवपुरी जिले में इस बार भले ही औसत सामान्य बारिश नहीं हुई, लेकिन कोलारस विधानसभा क्षेत्र में सर्वाधिक 966 मिमी बारिश दर्ज की गई। जो जिले की औसत सामान्य बारिश 816.03 मिमी से 150 मिमी अधिक है। यही वजह है कि इस क्षेत्र के सभी ताल-तलैया भरे हुए हैं। चूंकि इस साल अक्टूबर माह आधा निकलने के बाद भी गर्मी का अहसास कम न होने की वजह से लोग तालाब में नहाने जाते हैं और फिर उनकी लाश ही बाहर निकल रही है।

खतरनाक हैं तालाब
ग्राम पंचायतों में जो तालाब बनाए गए हैं, वह या तो अवैध उत्खनन के बाद हुए गड्ढों को ही कुछ और गहरा कर दिया गया या फिर पुराने तालाबों की मरम्मत के नाम पर राशि तो निकाल ली गई, लेकिन उनकी न तो पार पर पिचिंग करवाई गई और न ही उनके किनारे बनाए गए। यही वजह है कि अधिक बारिश की वजह से तालाब लबालब हैं और किनारे कच्चे होने की वजह से पैर स्लिप मारने से बच्चों से लेकर बड़े तक इतने गहरे पानी में पहुंच जाते हैं कि फिर उनकी लाश ही बाहर आती है।

shatrughan gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned