प्रशासन के फरमान पर सेना भर्ती की व्यवस्थाओं के लिए व्यापारियों से हो रही चंदा वसूली

कलेक्टर बोलीं शासन से मिलने थे 10, मिले सिर्फ पांच लाख

 

शिवपुरी. जिले में सेना की भर्ती होनी है और उसके लिए शहर के व्यापारियों से प्रशासन ने चंदा वसूली का फरमान जारी कर दिया है। शहर के विभिन्न व्यापारिक संगठनों से कलेक्टर ने कहा कि आप अपनी स्वेच्छा के अनुरूप सेना भर्ती की व्यवस्थाओं में सहयोग दें। प्रशासन के इस फरमान से शहर के व्यापारी अपनी स्वेच्छा से नहीं, बल्कि प्रशासन के डंडे के चलते आपस में चंदा कर रहे हैं। बड़ा सवाल यह है कि जिस भर्ती के लिए शासन को राशि दी जानी चाहिए थी, वो पैसा शहर के व्यवसायियों से वसूल किया जा रहा है।


गौरतलब है कि 8 जनवरी से आर्मी भर्ती का आयोजन शिवपुरी जिले में किया जा रहा है। जिसके लिए न केवल जिले के सभी विकासखंडों में प्रशिक्षण शिविर आयोजित किए जा रहे हैं, बल्कि भर्ती के दौरान भी युवाओं के लिए अलग से व्यवस्थाएं की जाएंगीं। सेना की भर्ती के लिए होने वाली टैंट-तंबू व अन्य सुविधाओं की व्यवस्था के लिए यूं तो शासन से राशि दी जाती है और उसमें से आधी राशि आ भी गई। बावजूद इसके प्रशासन ने शहर के व्यापारियों की अलग से बैठक करके उन्हें यह फरमान जारी किया है कि वे अपनी ओर से स्वेच्छा के अनुसार सेना भर्ती व्यवस्थाओं के लिए अपनी ओर से राशि जमा कराएं।

कलेक्टर के इस फरमान को सुनने के बाद अब शहर के विभिन्न व्यवसायिक संगठन चिंता में हैं, क्योंकि प्रशासन को कम राशि तो दे नहीं दे सकते और अधिक राशि देने के लिए अपने मुनाफे में से अधिक हिस्सा देना पड़ेगा। प्रशासन द्वारा की जा रही इस चंदा वसूली में किराना, रेडीमेड, दवा विक्रेताओं सहित सभी व्यवसायिक संगठनों को जल्द से जल्द यह राशि जमा करानी है। एक ऐसोसिएशन के पदाधिकारी का कहना था कि जब कलेक्टर ने कहा है तो फिर प्रत्येक एसोसिएशन 2-5 लाख रुपए से कम क्यों देगा?। आदेश का पालन न करने की हिम्मत भी किसी में नहीं है।

रेडक्रास में जमा करा रहे हैं व्यापारियों की राशि
हमने कुछ दिन पूर्व कलेक्ट्रेट में व्यापारियों की बैठक करके उनसे सेना भर्ती में सहयोग देने के लिए स्वेच्छा अनुदान राशि देने के लिए कहा है। सेना भर्ती में व्यवस्थाओं के लिए शासन से 10 लाख रुपए की राशि आनी थी, लेकिन उसमें से अभी 5 लाख रुपए आए हैं। व्यापारियों की राशि रेडक्रॉस में जमा करवा रहे हैं, जो राशि बचेगी वो रेडक्रॉस में ही रहेगी।
अनुग्रहा पी, कलेक्टर शिवपुरी

Rakesh shukla
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned