कियोस्क संचालक से लूट करने वाले चार बदमाश गिरफ्तार

अमोला थाना अंतर्गत अमोलपठा रोड पर एक कियोस्क संचालक के साथ हुई लूट के मामले में पुलिस ने 4 शातिर अपराधियों को दबोच लिया है, जबकि एक आरोपी अभी फरार है।

By: rishi jaiswal

Published: 16 Sep 2021, 11:16 PM IST

शिवपुरी. अमोला थाना अंतर्गत अमोलपठा रोड पर एक कियोस्क संचालक के साथ हुई लूट के मामले में पुलिस ने 4 शातिर अपराधियों को दबोच लिया है, जबकि एक आरोपी अभी फरार है। पुलिस ने लूटी गई 1 लाख 90 हजार की रकम में से 21 हजार रुपए, लैपटॉप व मोबाइल बरामद कर लिया है।

प्रेस वार्ता में एसपी राजेश सिंह चंदेल ने बताया कि करैरा निवासी कियोस्क संचालक अमित लाक्षाकर के साथ आमोलपठा रोड पर 10 मई को 5 बदमाशों ने कट्टा अड़ाकर लूट की घटना को अंजाम दिया था। बदमाश अमित व उसके पिता के पास मौजूद एक लाख 90 हजार रुपए, लेपटॉप व मोबाइल लूटकर ले गए थे। घटना के बाद पीडि़त पुलिस के पास पहुंचा था और शिकायत दर्ज कराई। इस पर से थाना प्रभारी अमित चतुर्वेदी ने मामले की जांच कर कड़ी से कड़ी जोड़ी तो आमोलपठा में रहने वाले डग्गी राजा चौहान पर पुलिस को कुछ संदेह हुआ। इस पर से पुलिस ने डग्गी को राउंडअप कर पूछताछ की तो उसने बताया कि पांच लोगों ने मिलकर इस घटना को अंजाम दिया था। इनमें एक बदाश ग्वालियर का, दो बदमाश मुरैना, एक डबरा और एक अन्य बदमाश शामिल हैं। इस पर पुलिस ने मुरैना के दोनों बदमाशों, डबरा का एक आरोपी व अमोलपठा के डग्गी राजा को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि एक आरोपी फरार है।

दूसरी घटना के आरोपियों का नहीं लगा सुराग
यहां बता दें कि अमित लाक्षाकार के साथ पहली लूट की घटना 10 मई को हुई, वहीं दूसरी लूट की घटना भी दो माह बाद हो गई। पहली में अमित के एक लाख 90 हजार रुपए लूटे गए थे, जबकि दूसरी घटना में बदमाश अमित के पास से 70 हजार रुपए लूटकर ले गए है। अमित व उसका पिता दो अलग-अलग जगह कियोस्क सेंटर चलाते हैं। एक के बाद एक हुई दो लूट की घटनाओं से पिता-पुत्र सहित क्षेत्र के लोगों में दहशत का माहौल था। हालांकि दूसरी लूट के आरोपी व अमोलपठा पेट्रोल पंप के मुनीम के साथ हुई 4 लाख 60 हजार रुपए की लूट की घटना का अभी कोई सुराग नही लगा है।

डग्गी राजा ही हो सकता है दूसरी लूट का सूत्रधार
पुलिस को पूरा अंदेशा है कि अमित लाक्षाकर के साथ हुई दोनों घटनाओं में आमोलपठा के डग्गी राजा है। चूंकि जब पहली घटना हुई तो उसमें बदमाश अभी तक नही पकड़े गए थे, इसलिए डग्गी ने दूसरे अन्य बदमाशों को बुलाकर अमित के साथ दूसरी घटना भी कारित करवा दी। इस पूरे घटनाक्रम में डग्गी राजा का एक अपराधी मित्र ग्वालियर का है जो कि डग्गी को बाहर के बड़े बदमाशों से मिलवाता है। अब पुलिस डग्गी के माध्यम से उन दूसरे बदमाशों की पकडऩे की कार्रवाई कर रही है।

rishi jaiswal
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned