शिवपुरी में लोगों नहीं मिल रहा चाय बनाने के लिए दूध, कारण जानकर हैरान रह जाऐंगे आप

शिवपुरी में लोगों नहीं मिल रहा चाय बनाने के लिए दूध, कारण जानकर हैरान रह जाऐंगे आप
milk man stop milk supply in shivpuri district demand for prize hike

Gaurav Sen | Updated: 11 Oct 2019, 12:49:49 PM (IST) Shivpuri, Shivpuri, Madhya Pradesh, India

milk man stop milk supply in shivpuri district demand for prize hike: यह बनी कि दोपहर बाद दूध की डेयरियों पर ताले लटक गए। हड़ताल के पहले दिन भले ही आमजन को दूध के लिए अधिक परेशान नहीं होना पड़ा, लेकिन शुक्रवार को दूध न मिलने से कई लोग चाय के लिए तरस जाएंगे।

शिवपुरी. दाम बढ़ाए जाने को लेकर दूधियों व डेयरी संचालकों के बीच चल रही खींचतान के चलते गुरुवार को दूधियों ने हड़ताल की शुरुआत कर दी और शहर की ओर आने वाले रास्तों के नाकों पर तैनात होकर दूधियों को वापस कर दिया। हालांकि कुछ दूधिए चोरी-छुपे शहर में घुस आए, लेकिन मांग के अनुरूप दूध न मिल पाने से शहर की जनता दूध के लिए परेशान होती रही।

कुछ लोगों ने तो दस दिन की हड़ताल की चेतावनी को गंभीरता से लेते हुए डेयरियों पर सुबह ही पहुंचकर दो-तीन दिन का स्टॉक इक_ा खरीद लिया। स्थिति यह बनी कि दोपहर बाद दूध की डेयरियों पर ताले लटक गए। हड़ताल के पहले दिन भले ही आमजन को दूध के लिए अधिक परेशान नहीं होना पड़ा, लेकिन शुक्रवार को दूध न मिलने से कई लोग चाय के लिए तरस जाएंगे।

सुबह हालात रहे सामान्य, दोपहर में हो गई दूध की किल्लत
हड़ताल के पहले दिन शहर में सुबह हालात सामान्य नजर आए। शहर भर की दूध डेयरियां अपने निर्धारित समय पर खुलीं और वहां से दूध लेने वाले लोग रोजाना की तरह दूध लेते नजर आए। जब कुछ डेयरी वालों से इस संबंध में पूछताछ की गई तो उनका कहना था कि बुधवार को तो दूधियों ने अपनी सप्लाई दी थी, इसलिए उनके पास स्टॉक था। दोपहर 12 बजे तक डेयरियों में दूध का स्टॉक खत्म हो गया तो उनके शटर गिरना भी बंद हो गए। जिसने भी दूधियों की हड़ताल को गंभीरता से नहीं लिया और वो दोपहर बाद दूध तलाशने निकला तो उसे निराशा ही हाथ लगी और बिना दूध के ही लौटना पड़ा।

उपोक्ता पर बढ़ेगा भार
दूधिए दूध का रेट 40 रुपए किलो मांग रहे हैं, जबकि शहरवासी वर्तमान में भी इतने रेट पर ही डेयरियों से दूध खरीद रहे हैं, जबकि डेयरी संचालक दूधियों से 35 रुपए किलो में दूध ले रहे हैं। अब यदि दूध क दाम बढ़े तो उपभोक्ता पर भार पड़ेगा।

गुना नाका फॉरेस्ट चौकी
हालात: दूधियों ने गुना नाके पर सुबह से ही पहरेदारी शुरू कर दी थी, दूधिए शहर में न आ सकें इसलिए यह पहरा बड़ौदी और गुना नाके के बीच स्थित फॉरेस्ट चौकी पर लगाया गया। यहां सुबह-सुबह जो दूधिए शहर में दूध लेकर आ रहे थे, उन्हें रोका गया और हड़ताल की जानकारी देकर लौटा दिया गया।

रेलवे फाटक
हालात-पोहरी रोड पर दूधियों ने पहरेदारी रेलवे स्टेशन के पास स्थित फाटक पर की। यहां दूधिए अल सुबह से ही खड़े हो गए। इस कारण सुबह-सुबह कई दूधियों को दूध की कैन लेकर शहर में आते हुए न सिर्फ रोका गया बल्कि कई को तो अपने साथ ही खड़ा कर नाकेबंदी में भी सहभागी बनाया। कई दूधिए अपना दूध वापस लेकर लौट गए।

milk man stop milk supply in shivpuri district demand for prize hike

झांसी रोड, कंषाना डेयरी
हालात-दूधियों ने झांसी रोड पर पहरेदारी के लिए कंषाना दूध डेयरी के पास का स्थान चिह्नित किया था। इसके पीछे की मुख्य वजह यह थी कि इस क्षेत्र के अधिकतर दूधिए इसी डेयरी पर अपने दूध की सप्लाई करते हैं। सुबह 8 बजे तक यहां कोई भई दूधिया पहरेदारी के लिए तैनात नजर नहीं आया, जिसके चलते दूधिए यहां दूध सप्लाई करते देखे गए।

 

milk man stop milk supply in shivpuri district demand for prize hike

हमने दोनों पक्षों को बातचीत के लिए बुलाया है। दूधियों की मांग दूध के रेट बढ़ाने की है और डेयरी संचालक उनके रेट नहीं बढ़ा रहे। हमारा प्रयास रहेगा कि आम उपभोक्ता को अच्छी क्वालिटी का दूध कम से कम दाम में मिल सके।
अतेंद्र सिंह गुर्जर, एसडीएम शिवपुरी

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned