भ्रष्टाचार की खुली कलई: लाखों खर्च करने के बाद भी नहीं लगा एक भी पौधा

14 वित्तीय अयोग्य राशि को सचिव व सरपंच ने किया खुर्द-बुर्द।

By: shatrughan gupta

Published: 20 Oct 2020, 08:16 PM IST

करैरा. जिला मुख्यालय से 25 किलोमीटर दूर नेशनल हाइवे शिवपुरी रोड पर स्थित जंप करैरा की ग्राम पंचायत अमोला क्रेसर में पिछले तीन सालों में लगाए गए लाखो के पौधे केवल कागजों में ही लगाए गए। धरातल पर देखे तो एक भी पौधा मौके पर नहीं हैं। इसके अलावा पंचायत के हर निर्माण कार्य में सरपंच के देवर व सचिव ने मिलकर जमकर भ्रष्टाचार किया है। बड़ी बात यह है कि सबकुछ जानने व लोगों की शिकायतों के बाद भी जिम्मेदार कोई कार्रवाई नहीं कर रहे। जानकारी के मुताबिक पंचायत में पंच परमेश्वर योजना, खेत तालाब योजना, चेक डैम, अतिरिक्त कक्ष, सीसी रोड से लेकर शौचालय तक में घोटाला किया गया। अमोला क्रेसर में महिला सरपंच के देवर जो पूर्व में इसी पंचायत के सचिव थे, उन्होंने पूरे पांच साल सरपंच का काम-काज खुद ने किया और कई निर्माण कार्या में घालमेल किया। अभी कुछ माह पूर्व जप की अध्यक्ष बती आदिवासी ने ग्राम अमोला के्रशर का दौरा किया था, जिसमें लाखों का घपला देखने को मिला। इस पूरे मामले में जनपद अध्यक्ष ने गांव के सचिव के खिलाफ कार्रवाई के लिए अनुशंसा की थी, लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई नही हुई।

अधूरा पड़ा अतिरिक्त कक्ष
ग्राम अमोला क्रेसर में 5 साल पूर्व सरपंच सचिव ने एक अतिरिक्त कक्ष निर्माण के नाम पर राशि पूरी आहरण कर ली,लेकिन भवन आज भी अधूरा पड़ा हुआ है। गांव में कई शौचालय भी अधूरे हैं और राशि सभी की निकाल ली गई। इसके अलावा कई अन्य योजनाओं में भी बिना काम किए ही पूरी राशि निकाल ली गई।

यह बोले ग्रामीण
पंचायत में पौधरोपण के नाम पर लाखों का घालमेल हुआ है। जहां-जहां पौधे लगाना बताए गए, वहां कोई पौधे नहीं लगे हैं। हमने शिकायत भी की थी, लेकिन कोई सुनवाई नहीं होती।
रामदयाल लोधी, ग्रामीण

स्कूल के अतिरिक्त कक्ष का निर्माण सालों से अधूरा पड़ा है। राशि पूरी निकाल ली गई। रोजगार गारंटी योजना के तहत जो काम किए वह मशीनों से कराए गए। किसी को कोई रोजगार नहीं मिला। कोरोना के लिए आया बजट भी खुर्द-बुर्द कर दिया गया।
जयकिशन जाटव, ग्रामीण

यह बोले जिम्मेदार
ग्राम पंचायत अमोला क्रेशर सहित अन्य जिन पंचायतों में अधूरे निर्माण कार्यों की शिकायते हैं। उनकी जानकारी मांगी गई है। सभी की जांच कराकर कार्रवाई की जाएगी।
मनीषा चतुर्वेदी, सीईओ, जनपद करैरा

shatrughan gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned