गड्ढों में तब्दील हुआ शहर का पुराना बायपास

टै्रफिक डायवर्ट होते ही पुराने बायपास को भूला महकमा, परेशान हो रहे शहरवासी
उखड़ी गिट्टियां व गड्ढों में अनियंत्रित होकर गिर रहे दुपहिया वाहन सवार

शिवपुरी. शहर का पुराना बायपास गड्ढों में तब्दील हो गया है। ट्रैफिक डायवर्ट होने के बाद पीडब्ल्यूडी विभाग भी सड़क को सुधरवाना भूल गया, जिसके चलते शहर की ढाई लाख की आबादी परेशानी झेलने को मजबूर है। उखड़ी गिट्टियां व गड्ढों में दुपहिया वाहन अनियंत्रित होकर गिर कर चोटिल हो रहे हैं तथा उडऩे वाली धूल भी लोगों को बीमार कर रही है। इतना ही नहीं ट्रैफिक प्रभारी का भी कहना है कि सड़क की हालत इतनी खराब हो चुकी है कि उस पर कभी दुर्घटना हो सकती है, जिसे सुधारा जाना जरूरी है।


ग्वालियर नाके से गुना नाके के बीच 3 किमी के पुराने बायपास को उस समय दुरुस्त करवाया था, जब फोरलेन बायपास को बंद करके इस रोड से ट्रैफिक डायवर्ट किया गया था। उसके बाद से इस सड़क को भगवान भरोसे छोड़ दिया गया। जिसका परिणाम यह रहा कि बरसात खत्म होने के बाद यह सड़क कई जगह से टूटकर पूरी तरह से गड्ढों में तब्दील हो गई। सड़क पर लगभग 50 से 100 मीटर तक के टुकड़े कई जगह इतने अधिक खराब हो गए कि उन पर चार पहिया वाहन के पटे व चेसिस में टूटफूट की आवाजें आती हैं, वहीं दुपहिया वाहन इन पर से गुजरते समय अनियंत्रित होने से लोग गिरकर चोटिल हो रहे हैं। महत्वपूर्ण बात यह है कि सड़क उन क्षेत्रों में अधिक खराब हुई है, जहां रिहायशी इलाका है। स्थिति यह है कि कॉलोनी से बायपास पर आते ही बदहाल सड़क पर वाहन अनियंत्रित हो रहे हैं।


बायपास पर यहां सबसे अधिक खतरा


कंट्रोल रूम से पोहरी नाका
बायपास पर स्थित पुलिस कंट्रोल रूम से पोहरी नाके तक लगभग 100 मीटर की दूरी तक सड़क उखड़कर पूरी तरह से गायब हो गई है। स्थिति यह है कि सड़क गायब होने के बाद वहां पर गिट्टी उखड़कर बाहर आ गई है। चूंकि इस एरिया में लोगों की आवाजाही अधिक रहती है, जिसके चलते अक्सर सड़क के इस टुकड़े पर आए दिन लोग गिरकर चोटिल होते रहते हैं।


मनियर मोड़ के पास

शहर से गुजरे पुराने बायपास का वह हिस्सा मनियर मोड़ का सबसे अधिक बदहाल है। यहां पर लगभग 150 मीटर का टुकड़ा पूरी तरह से उखडऩे के साथ ही गड्ढों में तब्दील हो गया। आनंदपुर ट्रस्ट के पास पुलिया से लेकर मनियर टोल नाके तक भी सड़क बहुत अधिक बदहाल है, जबकि यहां पर पांच रिहायशी कॉलोनियां हैं, जहां रहने वाली आबादी खतरे में है।


टोंगरा रोड के सामने

बायपास रोड का तीसरा बड़ा हिस्सा टोंगरा रोड के पास वाला पूरी तरह से खराब हो गया। यहां पर पुलिया ओवरफ्लो होने के बाद उसका पानी सड़क पर इका होने की वजह से डामर तो यहां पूरी तरह से गायब हो गया। यहां भी लगभग 100 मीटर सड़क का टुकड़ा गड्ढों व उखड़ी गिट्टियों में तब्दील हो जाने से यहां पर भी अक्सर लोगों के गिरने-उठने का क्रम बना रहता है।


खतरनाक बायपास

बरसात के दौरान बायपास की सड़क जो खराब हुई, वो अब और भी अधिक खतरनाक हो गई है गड्ढे होने तथा गिट्टियां उखडऩे की वजह से वो संभावित दुर्घटना एरिया बन गए हैं। हमने पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों से कहा है वे सुधरवाने की बात कह रहे हैं।
रणवीर सिंह यादव, ट्रैफिक प्रभारी शिवपुरी

Show More
महेंद्र राजोरे Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned