कोरोना का मरीज होने के संदेह में वृद्ध को पीटा

बदरवास में एक खेत में अद्र्ध बेहोशी की हालत में पड़े मिले को एम्बूलेंस के माध्यम से अस्पताल लाया गया, जहां उसके कोरोना के संदेही होने के चलते उसे शिवपुरी रैफर कर दिया गया है। वृद्ध को इससे पहले कोरोना का मरीज होने के संदेह में ब्यावरा में मारा पीटा भी गया था।

शिवपुरी.बदरवास। बदरवास में एक खेत में अद्र्ध बेहोशी की हालत में पड़े मिले को एम्बूलेंस के माध्यम से अस्पताल लाया गया, जहां उसके कोरोना के संदेही होने के चलते उसे शिवपुरी रैफर कर दिया गया है। वृद्ध को इससे पहले कोरोना का मरीज होने के संदेह में ब्यावरा में मारा पीटा भी गया था। जानकारी के अनुसार 108 एम्बुलेंस को सूचना मिली कि एक वृद्ध किसी खेत में पड़ा हुआ है। जब एम्बुलेंस का स्टाफ वृद्ध को बदरवास स्वास्थ्य केंद्र लेकर आए। जहां वृद्ध ने बताया कि वह रंझोल पुत्र लक्ष्मण सिंह यादव निवासी बिजरौनी है। उसका घर परिवार न होने के कारण वह यहां से वहां घूमता फिरता है, इसी क्रम में वह शनिवार को ब्यावरा में था। ब्यावरा में उसके गले में दर्द होने के साथ उसे खांसी, जुकाम और बुखार के साथ सांस लेने में तकलीफ हुई तो लोगों ने उसकी मारपीट करना शुरू कर दी और उसे ट्रेन में बिठा कर वहां से भगा दिया। स्वास्थ्य केंद्र से उसे शिवपुरी रैफर किया गया है। एपीडिमियोलॉजिस्ट लालजू शाक्य का कहना है, उस व्यक्ति को फिलहाल सुरक्षित रखने के निर्देश दिए हैं, अगर उसे कोई तकलीफ होती है तो फिर उसे कॉरेंटम सेंटर में रखेंगे और आगे की कार्रवाई करेंगे।


कोरोना वायरस पीडि़त युवक की झूठी खबर फैलाने पर दो पर केस दर्ज
शिवपुरी. जिले की पोहरी पुलिस ने बीते रोज सोशल साइट पर कोरोना वायरस से एक युवक के पीडि़त होने की भ्रामक खबर फैलाई थी। बाद में जब जांच की गई तो यह खबर पूरी तरह से फर्जी निकली। पुलिस ने इस मामले में दोनों युवकों धर्मेन्द्र शर्मा व कपिल शर्मा निवासी पोहरी पर प्रतिबंधात्मक 151 के तहत कार्रवाई की है। इसके बाद दोनों को एसडीएम पल्लवी वैध के समक्ष पेश किया गया जहां से दोनों को जमानत दे दी गई।

Rakesh shukla Desk
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned