वैलेंटाइन डे के दिन लव मैरिज, भाइयों ने किया बहन और बहनोई का अपहरण, पति की एक आंख फोड़ी

वैलेंटाइन डे के दिन दोनों ने भागकर किया था प्रेम विवाह

By: Muneshwar Kumar

Updated: 01 Mar 2020, 02:51 PM IST

शिवपुरी/ वैलेंटाइन डे के दिन दोनों ने भागकर प्रेम विवाह किया। पंद्रह दिन बाद लड़की के घरवालों ने दोनों को खौफनाक सजा दी है। लड़की के भाइयों ने बहन और बहनोई का सागर से अपहरण किया। उसके बाद शिवपुरी में लाकर उनकी बेरहमी से पिटाई की। क्रूरता की हदें पार करते हुए आरोपियों ने बहन के पति की एक आंख फोड़ दी है। बताया जा रहा है कि लड़की के परिजन ऑनर किलिंग की प्लानिंग की थी।


दरअसल, वैंलेटाइन डे के दिन शादी करने वाले जोड़े को पंद्रह दिन बाद इसका खामियाजा भुगतना पड़ रहा है। युवती के परिजनों ने पति पूरनण सिंह परमार के माता-पिता को इतना पीटा कि मरणासन्न हालत में वह पहुंच गए। यहीं नहीं आरोपियों ने युवक की आंख फोड़ दी और युवती को भी बेदम पीटा। मामला अमोला थाना के ग्राम राजगढ़ का है। यहां एक बालिग युवती ने सागर के खतौरा निवासी प्रेमी के साथ चौदर फरवरी के दिन प्रेम विवाह किया था। इसके बाद वह प्रेमी के घर रहने लगी।

दोनों का अपहरण किया
आरोप के अनुसार युवती के भाइयों ने 27 की रात सागर पहुंचकर पिता कल्याण सिंह और मां राजकुमारी को बुरी तरह पीटने के बाद बहन और उसके प्रेमी का अपहरण कर लाए। सागर के माल्थोन थाने की पुलिस ने शुक्रवार शाम अमोला पुलिस के साथ मिलकर प्रेमी युगल को मुक्त कराया और तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस को आशंका थी कि आरोपियों को एक साथ नहीं दबोचा तो वे उन्हें नुकसान पहुंचा सकते हैं। इसलिए पुलिस ने रात में ही घेराबंदी कर आरोपी भाई शिवराज सिंह चौहन, चंद्रपाल और रज्जन को गिरफ्तार कर लिया है।

परिजनों को नागवार गुजरा
पुलिस के अनुसार युवती करैरा क्षेत्र की है, जिसने मालथौन थाना क्षेत्र के पूरन राजा से वैलेंटाइऩ-डे पर लव मैरिज किया था। इस फैसला से युवती के परिजन नाराज थे। झूठी शान के लिए यह बात उन्हें लगातार नागवार गुजर रही थी। इसलिए दो दिन पहले युवती के भाई गांव मालथौन पहुंचे। बहन और बहनोई को पीटा फिर बहन के सास-ससुर को भी पीटा गया।


लाए थे शिवपुरी
वहां दोनों की पिटाई करने के बाद उन्हें उठाकर शिवपुरी ले आए थे। युवक के परिजनों ने इस बात की शिकायत पुलिस में की थी। पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर जब युवक-युवती के बरामदगी के लिए गांव पहुंचे तो वहां एक कुठरिया में रस्सी से बांधकर युवक-युवती को रखा गया था। इन दोनों को छुड़ाकर पुलिस आरोपी भाई चंद्रपाल सिंह चौहान, रज्जन सिंह चौहान और हल्के सिंह चौहान को गिरफ्तार कर ले गई।

Show More
Muneshwar Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned