प्रदूषण बोर्ड ने शिवपुरी नगर पालिका पर लगाया 4 लाख रुपए का जुर्माना

सीवर प्रोजेक्ट को बनाया ढाल, 15 दिन में जमा करना होगी राशि।

 

 

By: shatrughan gupta

Published: 23 Sep 2020, 10:06 PM IST

शिवपुरी. शहर में प्रदूषण रोकने के नाकाम नगर पालिका शिवपुरी पर प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड गुना ने 4 लाख रुपए का जुर्माना किया है। इतना ही नहीं उक्त राशि नपा को 15 दिन में जमा करने के साथ ही अपना जवाब भी पेश करना होगा। महत्वपूर्ण बात यह है कि पिछले दस साल से अधूरे पड़े सीवर प्रोजेक्ट को नपा ने अपनी आड़ बना लिया, अन्यथा जुर्माने की यह राशि कई गुना अधिक हो सकती थी। मालूम हो, मप्र प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड गुना द्वारा प्रदूषण पर नियंत्रण के लिए एक गाइड लाइन बनाने के साथ ही कुछ पैमाने भी तय किए हैं, जिसके आधार पर काम करके नपा को प्रदूषण पर नियंत्रण करना था। लेकिन नपा ने अपनी ओर से प्रयास नहीं किए तथा प्रदूषण नियंत्रण की दिशा में कोई बेहतर कदम नहीं उठाया, जिसके चलते शिवपुरी शहर में प्रदूषण पर नियंत्रण नहीं लग सका। हालांकि नगरपालिका ने सीवर प्रोजेक्ट का ट्रीटमेंट प्लांट अधूरा होने की वजह से प्रदूषण नियंत्रण में नाकामी का कारण बताया, जिसके चलते लगने वाले जुर्माने की राशि कम हो गई।

नपा ने किया उल्लंघन
प्रदूषण बोर्ड के वर्ष 2016 के नियम 22 के अंतर्गत 6वें बिंदु से 10वें बिंदु का उल्लंघन नगरपालिका ने किया है। जिसमें बिल्डिंग निर्माण में निकलने वाला मटेरियल इकट्ठा नहीं किया गया तथा डंपिंग स्टेशन पर कचरा सिर्फ डाल दिया, लकिन उसे अलग-अलग छंटनी नहीं की गई। यानि शिवपुरी में डंपिंग स्टेंशन पर कचरा प्रबंधन नहीं किया जा रहा है।

एनजीटी ने दिया जल संरचनाओं के संरक्षण का आदेश
नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (एनजीटी) ने निर्देश जारी किए हैं कि जल सरंचनाओं को संरक्षित किया जाए। साथ ही नालों में सीवर आदि की गंदगी न पहुंचे तथा नालों के साथ-साथ झील या तालाब में यह गंदगी न जाए। लेकिन शिवपुरी शहर के सभी नालों में न केवल सीवर की गंदगी बह रही है, बल्कि यह जाधव सागर तालाब एवं चांदपाठा झील में भी इकट्ठी हो रही है।

नपा पर किया है जुर्माना
नगरपालिका पर प्रदूषण नियंत्रण आदेश का ठीक ढंग से पालन न किए जाने की वजह से जुर्माना किया है। अधूरे सीवर प्रोजेक्ट का कारण नपा द्वारा बताया गया, इसलिए जुर्माने की राशि कम रही है।
- केबी शर्मा, वैज्ञानिक, प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड गुना

shatrughan gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned