पुरानी अनाज मंडी को हॉकर्स जोन बनाने की तैयारी

प्रभारी सीएमओ व टै्रफिक प्रभारी देखने पहुंचे जगह, मंडी सचिव ने खड़े किए हाथ
शहर में तीन बड़े हॉकर्स जोन बनाकर ठेलामुक्त बाजार बनाने की कवायद

शिवपुरी. शहर के मध्य स्थित पुरानी अनाज मंडी को हॉकर्स जोन बनाने की तैयारी प्रशासन ने शुरू कर दी है। इसी क्रम में सोमवार को नपा के प्रभारी सीएमओ जीपी भार्गव व ट्रैफिक प्रभारी रणवीर सिंह यादव सहित अन्य अधिकारियों ने मंडी में जाकर जगह को देखा, लेकिन मंडी सचिव आरपी सिंह ने हाथ खड़े कर दिए। ट्रैफिक प्रभारी का कहना है कि जिलाधीश के सहयोग से शहर के मध्य मंडी में अच्छा हॉकर्स जोन बन जाएगा। ज्ञात रहे कि शहर के बाजार को ठेलामुक्त करने के लिए तीन अलग-अलग जगह पर हॉकर्स जोन बनाए जा रहे हैं।


गौरतलब है कि शहर की ट्रैफिक व्यवस्था को अस्त-व्यस्त करने वाले चार पहिया ठेला दुकानदारों को व्यवस्थित करने के लिए नगरपालिका व टै्रफिक पुलिस के अधिकारी शहर में हॉकर्स जोन बनाने के लिए जगह देख रहे हैं। इसी क्रम मे सोमवार दोपहर में ट्रैफिक प्रभारी व नपा के प्रभारी सीएमओ, पुरानी अनाज मंडी की खाली हुई जगह को हॉकर्स जोन बनाने के लिए जगह देखने पहुंचे। चूंकि शिवपुरी की नई अनाज मंडी पिपरसमा में बन गई है तथा उसका लोकार्पण भी हो गया। इसलिए अब पुरानी अनाज मंडी में खाली हुई जगह का बेहतर उपयोग करने के लिए हॉकर्स जोन बनाने की कवायद की जा रही है। चूंकि यह शहर के मध्य में है तथा उसके अंदर जगह भी इतनी अधिक है कि एक सैकड़ा से अधिक ठेले यहां पर आसानी से खड़े हो सकते हैं। चूंकि मंडी की बाउंड्री भी है तथा आने-जाने के लिए एक गेट है, इसलिए हॉकर्स जोन बनने के बाद लोगों को खरीदारी करने के लिए अधिक दूर तक नहीं जाना पड़ेगा। एक तरफ जहां नपा व ट्रैफिक अधिकारी जगह देखकर उसे हॉकर्स जोन के लिए पसंद कर आए, वहीं मंडी सचिव आरपी सिह ने यह कहकर हाथ खड़े कर दिए कि यह जगह तो मंडी बोर्ड की है, इसलिए हमारी सहमति कोई मायने नहीं रखती, इसकी परमीशन तो बोर्ड से लेनी पड़ेगी। हालांकि टै्रफिक प्रभारी का कहना है कि हम इस संबंध में जिलाधीश से बात करेंगे, ताकि शहर के बीच में ही हॉकर्स जोन बनाया जा सके।


आड़तियों को गुपचुप दी जगह


पुरानी अनाज मंडी खाली होने के बाद उसके चबूतरे व खाने की कैंटीन को मंडी प्रबंधन ने गुप्त समझौते के चलते माल रखने के लिए गोदाम बनाने को जगह दे दी। जिसके चलते आड़तियों ने अपनी जाली व टीनशेड लगाकर जगह घेर ली है। एक तरफ जहां आड़तियों को मंडी प्रबंधन ने गुपचुप सौदा करके जगह दे दी, लेकिन जब उस जगह पर हॉकर्स जोन बनाने के लिए जगह देखी तो मंडी प्रबंधन नियम बताने लगा।


पुराने बस स्टैंड पर भी बनवा रहे हॉकर्स जोन


शहर के पुराने बस स्टैंड के पास खाली कराए गए बाड़े को भी हॉकर्स जोन बनाने के लिए जगह को समतल कराया जा रहा है। उस जगह को समतल करके वहां भी हॉकर्स जोन बनाया जा रहा है। वहीं तीसरा हॉकर्स जोन झांसी तिराहा के आसपास बनाया जाएगा, उसके लिए भी वहां जगह देखी जा रही है। ट्रैफिक प्रभारी का मानना है कि शहर जो पहले से ही तीन जोन में बंटा हुआ है, इसलिए शहर में तीन हॉकर्स जोन बनाने से लोगों को खरीदारी के लिए अधिक दूर नहीं जाना पड़ेगा, वहीं ठेलों को एक जगह मिल जाने के बाद शहर के बाजार की सड़कें ठेलामुक्त हो जाएंगी।


बनाएंगे हॉकर्स जोन


पुरानी अनाज मंडी की खाली हुई जगह को हॉकर्स जोन बनाने के लिए सोमवार जगह देखने गए थे। जिलाधीश को पूरी जानकारी देकर उनके सहयोग से हॉकर्स जोन यहां बनाएंगे। पुराने बस स्टैंड पर भी जगह तैयार करा रहे हैं तथा झांसी तिराहे पर जगह देख रहे हैं।
रणवीर सिंह यादव, ट्रैफिक प्रभारी शिवपुरी

महेंद्र राजोरे Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned