स्कूल बस ने छात्रा को कुचला, मौत

हादसे के बाद भागा बस चालक, बाइक से पीछा कर पकड़ा, आक्रोशित परिजनों ने फोड़ी थाने के बाहर खड़ी बस

By: Rakesh shukla

Published: 03 Jan 2019, 10:56 PM IST

शिवपुरी. कोतवाली थानांतर्गत पुजारी होटल के पास एक स्कूल बस के चालक ने तेजी व लापरवाही से बस चलाते हुएस्कूली छात्रा को रौंद दिया। हादसे के बाद बस के चालक मौके से से बस लेकर भाग गया, जिसे एक पुलिसकर्मी तथा आम नागरिक ने बाइक से पीछा करके पकड़ा। छात्रा अपने दादा के साथ स्कूल पढऩे के बाद वापस घर लौट रही थी। पुलिस ने बस जब्त कर मामले की विवेचना शुरू कर दी है।
जानकारी के अनुसार ईस्टर्न हाईट स्कूल की बस क्रमांक एमपी०७ पी ०२६१ गुरुवार की दोपहर करीब १ बजे स्कूल से बच्चों को लेकर शहर की तरफ आ रही थी। इसी दौरान बस चालक मनोज बाथम ने तेजी व लापरवाही से बस चलाते हुए, अपने दादा के साथ स्कूल से पढ़ कर लौट रही ९ वर्षीय छात्रा पलक पुत्री मंगलिया कुशवाह निवासी बछौरा को रौंद दिया। हादसे में छात्रा की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं घटना के बाद चालक बस को लेकर वहां से फरार हो गया, जिसे मौके पर मौजूद एक पुलिसकर्मी तथा अभिषेक नाम के युवक ने बाइक से पीछा करके मेडिकल कॉलेज के सामने पकड़ा। घटना के बाद छात्रा को जिला अस्पताल लाया गया जहां डॉक्टरों ने उसका परीक्षण करने के बाद मृत घोषित कर दिया। उधर हादसे में छात्रा की मौत के बाद जब उसके परिजनों को दुर्घटना की जानकारी मिली तो वह दौड़े-दौड़े घटना स्थल पर पहुंचे। घटना स्थल पर उन्हें यह पता चला कि घटना के बाद बस चालक बस लेकर भाग गया जिसे बाद में पुलिस ने पकड़ लिया और थाने पर ले गई। यह सूचना पाकर छात्रा के परिजन सीधे कोतवाली आ गए, जहां आक्रोशित होकर उन्होंने बस पर पथराव कर उसके कांच फोड़ दिए, हालांकि बाद में पुलिस ने आक्रोशित परिजनों को काबू में कर लिया।
पहले भी हो चुके हैं इस स्कूल की बसों से दो और हादसे : यहां उल्लेख करना होगा कि ईस्टर्न हाईट स्कूल की तेज रफ्तार बस से टकराने के कारण यह पहला हादसा नहीं है, बल्कि इससे पूर्व भी दो बार बस के चालकों ने तेजी व लापरवाही से वाहन चलाते हुए कत्थामिल के मोड़ पर ही दुर्घटनाओं को अंजाम दिया है, इन दोनों हादसों में भी दर्जनों स्कूली बच्चे दुर्घटना का शिकार हो चुके हैं। खास बात यह है कि साल दर साल लगातार हो रहे स्कूल हादसों के बावजूद स्कूल प्रबंधन संभलने और सुधरने का नाम नहीं ले रहा है। स्कूल में कई बसें तो बेहद कंडम हालत में हैं, जिससे बच्चों की जान को खतरा बना हुआ है।


दो साल से नहीं कराया बस का बीमा
जिस स्कूल बस से यह दुर्घटना घटित हुई है, वह पोहरी के किसी हरिशंक शिवहरे के नाम पर शिवपुरी आरटीओ में दर्ज 11 साल पुरानी बस है। एमपी ट्रांसपोर्ट की साइड पर दर्ज जानकारी के अनुसार इस बस को शिवपुरी आरटीओ ने 9 अक्टूबर 2019 तक फिटनेसजारी की गई है, परंतु बस के मालिक ने 17 अगस्त 2016 के बाद बस का बीमा नहीं कराया है। यह दर्शाता है कि स्कूल बस के संचालन में किस हद तक लापरवाही बरती जा रही है। इससे पूर्व भी इस स्कूल की जिस बस का एक्सीडेंट हुआ था उसका भी बीमा नहीं था।


औपचारिक कार्रवाई का परिणाम है हादसा
शैक्षणिक सत्र की शुरूआत होने से पहले आरटीओ कार्यालय द्वारा शहरभर के विभिन्न स्कूलों की बसों को जब्त कर प्ले ग्राउंड में उनकी फिटनेस, बीमा, स्पीड गवर्नर आदि की जांच की थी। यह जांच पड़ताल सिर्फ औपचारिकताओं में सिमट कर रह गई, इसी का परिणाम है कि आज भी सडक़ों पर बिना बीमा और फिटनेस के भी स्कूली बसें फर्राटे भर रही हैं। यदि उस समय कार्रवाई सिर्फ औपचारिकताओं में सिमट कर नहीं रहती और आरटीओ समय-समय पर वाहनों की चेकिंग करती रहती तो शायद इस तरह के हादसे नहीं होते।

Show More
Rakesh shukla
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned