दुकानदारों 10-10 हजार रुपए चंदाकर डलवाई सीवर लाइन

पीएचई ईई व स्थानीय लोगों के बयानों में विरोधाभास

By: Rakesh shukla

Published: 03 Jan 2019, 11:01 PM IST

शिवपुरी. शहर का सबसे प्रमुख बाजार सदर बाजार टेकरी की एक गली में गुरुवार को जेसीबी से सडक़ को खुदवाया गया। चूंकि यहां पर सडक़ की खुदाई स्थानीय दुकानदारों ने अपनी निगरानी में निजी खर्चे पर करवाई है, तो काम में फिनिशिंग स्पष्ट नजर आ रही है। बड़ा सवाल यह है कि शिवपुरी शहर में जब 100 करोड़ रुपए की लागत वाले सीवर प्रोजेक्ट का काम चल रहा है, तो फिर टेकरी बाजार के दुकानदारों को क्यों अपनी जेब से सीवर लाइन डलवाने में 1 लाख रुपए खर्च करने पड़े। इस संबंध में जब पीएचई ईई से बात की तो उनके व स्थानीय लोगों के बयानों में विरोधाभास नजर आया। क्योंकि ईई यह कह रहे हैं कि उक्त कार्य सीवर प्रोजेक्टका काम कर रहा ठेकेदार ही करवा रहा है।
टेकरी सदर बाजार में स्टेट टाइम की सीवर लाइन डली होने की वजह से वो न केवल जगह-जगह से क्षतिग्रस्त हो गई, बल्कि सीवर की गंदगी सडक़ों पर बहती रहती है। जिसके चलते वहां रहने वाले लोगों व दुकानदारों का जीना मुहाल हो गया था। इस रोड पर रहने वाले राजेश अग्रवाल, सुरेश खंडेलवाल, अमित गुप्ता, नवनीत राठी, लाभाचंद जैन, दिनेश जैन, आनंद अग्रवाल आदि ने नगरपालिका से लेकर पीएचई दफ्तरों के चक्कर लगाए। लेकिन इस समस्या का कोई हल नहीं निकाला गया तो स्थानीय लोगों ने आपस में चंदा करके इस सडक़ को आज खुदवा दिया। स्थानीय दुकानदारों ने बताया कि हमने चंदा करके 1 लाख रुपए इकट्ठा कर लिया, उससे लाइन डलवाएंगे।

निजी काम को पीएचई अपने खाते में जोडऩे की तैयारी में

टेकरी सदर बाजार वाली इस सडक़ को खोदने के लिए जहां स्थानीय लोगों ने चंदा किया है, वहीं पीएचई के ईई यह कह रहे हैं कि उक्त कार्य को सीवर प्रोजेक्ट का ठेकेदार ही करवा रहा है तथा वो पाइप भी देगा। जबकि स्थानीय लोगों का कहना है कि लगभग एक लाख रुपए की राशि इसमें खर्च होगी, जो हम लोग चंदा करके दे रहे हैं। यानि काम निजी खर्चे से हो रहा है और उसे पीएचई के जिम्मेदार ठेकेदार के खाते में जोडक़र उसका बिल बनवाने की तैयारी में हैं।
निजी खर्चे पर करवा रहे सीवर का काम
वहीं सुरेश खंडेलवाल, राजेश खंडेलवाल, अमित गुप्ता सहित स्थानीय नागरिकों का कहना है कि हमने हर घर से 10-10 हजार रुपए चंदा करके एक लाख रुपए की राशि इकट्ठा की है। खुदाई भी हमने करवाई और पाइप भी हम लाएंगे, क्योंकि ईई के सामने तो ठेकेदार ने पाइप देने की बात मान ली थी, लेकिन अब वो मना कर रहा है। परेशानी हमारी है, इसलिए हम अपने खर्चे पर सीवर लाइन डलवाकर उसमें अपने कनेक्शन करवाएंगे।
&टेकरी सदर बाजार वाले दुकानदार मेरे पास आए थे, तो हमने उनसे कहा कि वो सकरी गलियां हैं, आप हमारे ठेकेदार से कॉर्डीनेट करके इस काम को करवा लें। हमने ठेकेदार से पाइप देने के लिए भी कहा है। यह कार्य निजी खर्चे पर नहीं किया जा रहा।
एसएल बाथम, ईई पीएचई

Rakesh shukla
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned