चोरी गया ट्रक राजस्थान के नसीराबाद में मिला

साढ़े तीन लाख में चोरो ने कर दिया था ट्रक का सौदा, 5 में से दो आरोपी गिरफ्तार

By: rishi jaiswal

Published: 22 Sep 2021, 10:52 PM IST

शिवपुरी. शहर की कोतवाली पुलिस ने शहर से चोरी गए ट्रक को राजस्थान के नसीराबाद स्थित एक गैरेज से बरामद कर लिया। हाइवे पर लगे सीसीटीवी कैमरे में आए ट्रक के फुटेज व चोरों ने जिस किराए की कार का उपयोग घटना में किया था, उससे पुलिस इन चोरों तक पहुंच पाई। पुलिस ने इस मामले में 5 आरोपियों में से दो को पकड़ लिया है, जबकि तीन फरार है। आरोपियों की संख्या विवेचना के दौरान अभी और बढ़ सकती है।

एसपी राजेश सिंह चंदेल ने बताया कि 18 सितंबर को कोतवाली अंतर्गत फतेहपुर बायपास रोड की गणेश कॉलोनी से रात करीब 12.30 बजे अज्ञात चोर अशोक पुत्र माधवलाल ओझा का 20 लाख कीमती ट्रक चुराकर ले गए थे। ट्रक मालिक की सूचना पर पुलिस ने मामला दर्ज कर टीआई बादाम सिंह यादव ने कई पुलिस टीमें बनाकर चोरों की पतारसी के लिए रवाना कीं। इनमें से एक पुलिस टीम को सीसीटीवी फुटेज के आधार पर ट्रक पोहरी-श्योपुर व सवाईमाधौपुर के रास्ते राजस्थान जाता हुआ दिखाई दिया। इसके बाद पुलिस दौसा के पास लाल सोंठ पहुंच गई। यहां पर एक पेट्रोल पंप पर ट्रक के साथ शिवपुरी के नंबर वाली एक कार भी नजर आई। पुलिस को शक हुआ और कार के नंबर से पुलिस ने पूरा मामला ट्रेस कर लिया।

कार मालिक से पुलिस ने जब पूछताछ की तो उसने बताया कि सतेन्द्र उर्फ सोनू ओझा उसकी कार किसी काम से मांगकर ले गया है। इसके बाद पुलिस ने उस कार का पीछा किया तो कार राजस्थान के राजगढ़ दौसा थाना पुलिस की मदद से एक गांव में पकड़ ली, जिसमें दो शातिर चोर गिर्राज ओझा निवासी बैराड़ व सतेन्द्र उर्फ सोनू ओझा मिल गए। इसके बाद उनकी निशानदेही पर पुलिस ने ट्रक को नसीराबाद में मुकेश कुमावत निवासी नसीराबाद के गैरेज से बरामद कर लिया। चोरो ने यह ट्रक साढ़े तीन लाख रुपए में गैरेज मालिक के एक व्यक्ति यूसुफ पठान को विक्रय कर दिया था। मामले को ट्रेस करने में उनि दीपक पलिया, जगदीश रावत व आरक्षक सलमान खान की विशेष भूमिका रही। ट्रक मिलने पर ट्रक मालिक ने पुलिस टीम का सम्मान किया।

पेट्रोल पंप पर ट्रक के साथ मिली कार से लगा सुराग
पुलिस पूरे मामले में सीसीटीवी फुटेज के आधार पर राजस्थान के दौसा जिले तक तो पहुंच गई थी, लेकिन ट्रक उनसे दूर होता जा रहा था। इसके बाद जब दौसा के लाल सोंठ के पास एक पेट्रोल पंप पर फुटेज देखे तो चोरी गए ट्रक के पास में ही एक शिवपुरी से रजिस्टर्ड कार दिखी, जिसमें बैठे लोग ट्रक चालक से बातचीत कर रहे थे और उन्होने ट्रक में 3 हजार रुपए का डीजल भी डलवाया था। यह कार शिवपुरी निवासी किसी सोनी की थी, जिस पर से पुलिस ने कार मालिक को राउंडअप किया तो उसने बता दिया कि कार कौन ले गया है। टीआई यादव का कहना है कि विवेचना के दौरान आरोपियों की संख्या बढ़ सकती है।

पकड़े गए एक चोर पर है कई गंभीर केस दर्ज
मामले में पुलिस ने जिस बैराड़ निवासी गिर्राज ओझा को पकड़ा है, उसके खिलाफ लूट, चोरी व हत्या जैसे कई गंभीर मामले दर्ज है। साथ ही सतेन्द्र भी चोरी की घटनाओं में शामिल रहा है। इन दोनों ने ही ट्रक को चोरी किया था। हालांकि सतेन्द्र को बाद में फेसबुक पर घटना देखने के बाद ट्रक के मालिक अशोक का पता चला तो सतेन्द्र अशोक को जानता था, इस पर पहले तो यह ट्रक को रोड किनारे छोडऩे का मन बना रहे थे, लेकिन बाद में उन्होने ट्रक को साढ़े तीन लाख रुपए में बेच दिया।

rishi jaiswal
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned