छह बंदूकों के साथ तीन बदमाश गिरफ्तार

छह बंदूकों के साथ तीन बदमाश गिरफ्तार

Rakesh shukla | Publish: Sep, 06 2018 10:47:44 PM (IST) Shivpuri, Madhya Pradesh, India

राजनीतिक रसूख से ताल्लुक रखते है आरोपी, पहले से भी दर्ज है कई गंभीर मामले


शिवपुरी. कोतवाली पुलिस ने एक सूचना पर से तीन रसूखदार लोगों को छह 315 बोर की देसी अवैध बंदूक व 7 जिंदा राउंड के साथ पकडऩे की कार्रवाई की है। पकड़े गए लोगों पर पूर्व से ही हत्या व हत्या के प्रयास के प्रकरण दर्ज हैं।
एसपी राजेश कुमार ङ्क्षहंगणकर ने बताया कि उन्हें सूचना मिली कि कुछ लोग रेलवे क्रॉसिंग के पास अवैध हथियार लेकर वारदात करने की नीयत से घूम रहे है। इसके बाद कोतवाली टीआई विनय शर्मा को मामले में कार्रवाई करने के आदेश दिए। टीआई टीम के साथ मौके पर पहुंचे तो तीन आरोपियों हरिओम (45)पुत्र लटरूराम धाकड़ निवासी ग्राम ठेह सुहारा थाना सिरसौद, अरूण (45)पुत्र स्व. रघुवीर सिंह वर्मा निवासी ग्राम ठर्रा थाना सिरसोद व दिनेश उर्फ गोटू (42) पुत्र भौरूराम धाकड़ निवासी ठेह सुहारा को पकडक़र उनके पास से छह 315 बोर की देसी बंदूके व 7 राउंड बरामद किए। बताया जा रहा है कि हरिओम की भाभी वर्तमान में सरपंच पद पर है। इसके अलावा अन्य दोनों आरोपी भी राजनीतिक रसूख रखते है। बताया जा रहा है कि पुलिस ने इन लोगों को पहले ही पकड़ लिया था, बाद में इन पर कार्रवाई की गई। तीनों आरोपियो पर पूर्व से कई प्रकरण दर्ज हंै। बदमाशों को पकडऩे में टीआई शर्मा के अलावा उनि एसएस सिकरवार, अरविंद सिंह चौहान, पीएसआई शीलम सेंगर, एएसआई आबिद खॉंन, सउनि सतेन्द्र सिंह भदौरिया, राकेश जादौन, आरक्षक नरेश, सकील खॉन, जागेश आदि शामिल थे।
पंचायत चुनाव में कर चुके हैं गोलीबारी
पुलिस ने बताया कि आरोपी पूर्व में पंचायत चुनाव में कईबार गोली-बारी कर चुके हैं। साथ ही वर्ष २००८ में भी इन लोगों ने गोली चलाई थी जिसमें इनके खिलाफ हत्या के प्रयास सहित हत्या के कई प्रकरण दर्ज हुए थे, जो कि न्यायालय में विचाराधीन हैं। हालांकि पर्दे के पीछे की कहानी यह है कि यह लोग सत्ताधारी दल के एक विधायक के काफी करीबी है और कई बार राजनीतिक मामलों के चलते गोली-बारी कर चुके है।


वेयरहाउस में चोरी करने वाले दबोचे
बदरवास. जिले के बदरवास अंतर्गत ५ दिन पूर्व एक गोदाम से हुई चोरी के मामले में पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज की मदद से चोरों को पकड़ लिया है। चोरो से चोरी गए माल में से पुलिस ने अधिकांश माल बरामद भी कर लिया है। बताया जा रहा है कि फुटेज होने से पुलिस ने इस मामले को ट्रेस कर लिया।
जानकारी के मुताबिक बीते रोज बदरवास निवासी रिंकेश पुत्र प्रमोदकुमार सिंघल ने रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि ३१ अगस्त की रात अज्ञात चोरों ने उसके गोदाम से १७ मसूर के कट्टे, मोबाइल, वाहनों की चाबी व अन्य सामान चुराकर ले गए है। इस मामले में पुलिस ने गोदाम पर लगे सीसीटीवी कैमरे के फुटेज की मदद से अमन (19)पुत्र लक्ष्मण केवट, प्रदीप कुमार (21)पुत्र अमर सिंह जाटव व नीलेश(22) पुत्र विशन सिंह दिवाकर निवासीगण सकंट मोचन माझीं धर्मशाला के पीछे पिछोर को सड रोड से पकड़ लिया। चोरों के पास से पुलिस ने कुछ माल व वाहनों की चाबी बरामद कर ली हैं। साथ ही गिरोह का एक साथी पवन जाटव निवासी पिछोर जो कि गिरोह का सरगना है वह अभी फरार है। पकड़े गए युवकों ने बताया कि उन्होंने चोरी गया माल लक्ष्मण लोधी ग्राम नांद थाना पिछोर एवं सतोंष लोधी निवासी ठाठी थाना इन्दार को बेचा है। इन दोनों की तलाश भी पुलिस कर रही है। चोरो को पकडऩे में थाना प्रभारी राजीव त्रिपाठी, उनि प्रियंका जैन, एएसआई राजकुमार रघुवंशी आदि की भूमिका रही।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned