कार्यालयों में बंद हुए थंब इम्प्रेशन, हस्ताक्षर से लगेगी हाजिरी

न्यायालयों में सिर्फ जमानत पर सुनवाई के अलावा कोई और कार्य नहीं किया जाएगा, इसके अलावा शासकीय कार्यालयों में भी अब उपस्थिती दर्ज कराने के लिए थंब इम्प्रेशन को बंद कर दिया गया है

By: shatrughan gupta

Published: 19 Mar 2020, 12:10 AM IST

शिवपुरी. कोरोना का खौफ दिन प्रतिदिन बढ़ता जा रह है, इसी के चलते पहले स्कूलों का अवकाश घोषित किया गया और अब न्यायालयों में भी कामकाज बंद कर दिया गया है। न्यायालयों में सिर्फ जमानत पर सुनवाई के अलावा कोई और कार्य नहीं किया जाएगा, इसके अलावा शासकीय कार्यालयों में भी अब उपस्थिती दर्ज कराने के लिए थंब इम्प्रेशन को बंद कर दिया गया है, वह सरकारी कर्मचारियों की हाजिरी हस्ताक्षर से लगना शुरू हो गई है।

उल्लेखनीय है कि सरकार कोरोना को लेकर काफी एहतियात बरत रही है, इसी का परिणाम है कि हर रोज कोई न कोई एक नया आदेश जारी किया जा रहा है। इसी क्रम में अब सरकारी कार्यालयों में थंब इम्प्रेशन के माध्यम से लगने वाली हाजिरी पर रोक लगा दी गई है।

अब एक बार फिर से रजिस्टरों पर कर्मचारियों से हस्ताक्षर करवा कर वही पुराने तरीके से उनकी उपस्थिती दर्ज करवाई जा रही है। वर्तमान में जिला अस्पताल, एसपी कार्यालय, कलेक्ट्रेट कार्यालय, कॉलेज सहित कई स्थानों पर थंब इम्प्रेशन से हाजिरी दर्ज करवाई जा रही थी, वहां हस्ताक्षर करवाए जाने लगे हैं। डॉक्टरों का कहना है, एक ही थंब इम्प्रेशन मशीन पर सैकड़ों कर्मचारी अगर अपना थंब इम्प्रेश करेंगे तो वायरस के फैलने की चांस बढ़ जाएंगे।

इसी के चलते आदेश जारी किया गया है कि थंब इम्प्रेशन को बंद कर दिया जाए। लोग थंब इम्प्रेश न करें इसके लिए मशीनों में कनेक्शन भी काट दिए गए हैं। वहीं, १८ से ३१ मार्च तक शिवपुरी न्यायालय परिसर में भी अतिआवश्यक काम करने के संबंध में नोटिस चस्पा कर दिया गया।

इनका कहना

शासन के आदेश आए हैं कि कर्मचारियों की हाजिरी थंब इम्प्रेशन से न लगवाई जाए, इसी के चलते हमने थंब इम्प्रेशन से हाजिरी बंद की है।

डॉ. एमएल अग्रवाल

सीएस, जिला अस्पताल

shatrughan gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned