पार्कों के नाम पर भर्ती कर्मचारी कर रहे अधिकारियों के बंगलों में चाकरी

जब लगी हाजिरी तो सामने आया नपा का फर्जीबाड़ा, कलेक्टर बंगले पर दो तो सीएमओ व एचओ के घर पर 5-5 माली तैनात

By: rishi jaiswal

Published: 23 Sep 2021, 10:30 PM IST

शिवपुरी. नगरपालिका में नए आए सीएमओ ने एक फरमान क्या जारी किया, नपा मे ंचल रहा कर्मचारियों का फजीबाड़ा उजागर हो गया। सीएमओ ने पार्क प्रभारी को निर्देश दिए कि सभी पदस्थ कर्मचारियों की हर सुबह तुम हाजिरी लगाओगे, लेकिन जब यह प्रक्रिया शुरू हुई तो थोकबंद ऐसे कर्मचारी निकले, जो हाजिरी लगाने नहीं पहुंचे। क्योंकि शहर के पार्कों के नाम पर दस्तावेजों में दर्ज माली कहीं और अपनी सेवाएं दे रहे हैं। सूची में देखने पर मालूम हुआ कि कलेक्टर के बंगले पर दो माली पदस्थ हैं, जबकि नपा सीएमओ व एचओ के बंगले पर 5-5 कर्मचारी तैनात होने के साथ ही कई पूर्व पार्षदों के वार्ड में 3-3 माली पदस्थ हैंं। पार्क प्रभारी का कहना है कि यह कर्मचारी दिन में एक ही टाइम हमें मिल जाएं, तो हम शहर के सभी पार्कों को हरा-भरा कर देंगे।


शिवपुरी शहर में नगरपालिका के 58 पार्क हैं और इनमें से महज 28 पार्क में ही हरियाली या साफ-सफाई है, जबकि 30 पार्क पूरी तरह से बदहाल होकर कुछ तो कचराघर बन गए। यह हालात इसलिए हैं, क्योंकि नगरपालिका में थोकबंद माली के पदों पर भर्ती तो की गई, लेकिन वे पार्कों में काम करने की बजाय अधिकारियों के बंगलों व घरों के अलावा पूर्व पार्षदों के वार्ड में काम करके सीधे ही वेतन ले रहे हैं, जबकि नियमानुसार पार्क प्रभारी द्वारा उपस्थिति भरने के बाद उनका वेतन निकाला जाना चाहिए। नपा सीएमओ शैलेष अवस्थी ने अभी हाल ही में पार्क प्रभारी को एक पत्र जारी करके निर्देश दिए हैं कि वे हर दिन कर्मचारियों की हाजिरी लेंगे, लेकिन जब यह प्रक्रिया शुरू हुई तो उपस्थिति से अधिक अनुपस्थिति के गोले बनने लगे।

ऐसे समझें शहर स्वच्छ व
हरा-भरा न होने का गणित
नगरपालिका शिवपुरी में 114 माली के पद पर कर्मचारी पदस्थ हैं। इनमें से 49 कर्मचारी विभिन्न वार्डों में पदस्थ हैं, जबकि 17 कर्मचारी अफसरों के बंगलों पर चाकरी कर रहे हैं। यह कर्मचारी उन पूर्व पार्षदों के वार्ड में पदस्थ होकर वेतन ले रहे हैं, जिनका पिछली परिषद में दबदबा रहा था, जबकि शेष वार्डों में मौजूद पार्कों में कोई कर्मचारी पदस्थ नहीं है। हद तो तब हो गई, जब एक ही वार्ड में तीन कर्मचारियों की सूची सामने आई।


मंत्री के पीए से लेकर अधिकारियों के घरों पर तैनात
नपा सीएमओ बंगले पर 5 कर्मचारी पदस्थ हैं, जबकि पूर्व सीएमओ व एचओ नपा के घर पर भी 5 माली काम कर रहे हैं। इसके अलावा कलेक्टर कोठी पर 2 कर्मचारी सेवाएं दे रहे हैं। नपा एई सचिन चौहान, आरआई पीयूष श्रीवास्तव के घर पर एक-एक कर्मचारी तैनात है, जबकि डूडा प्रभारी मधुसूदन श्रीवास्तव के घर पर दो तैनात हैं। इसके अलावाा कैबिनेट मंत्री के पीए के घर पर एक माली तैनात है।

एक ट्रैक्टर पर 6 कर्मचारी
नपा में पदस्थ छह कर्मचारी एक ही ट्रैक्टर पर तैनात हैं। ऐसे में एक वाहन पर 6 कर्मचारियों की तैनाती अपने आप में बड़ा सवाल है। बताया तो यहां तक जाता है कि जिस ट्रैक्टर पर तैनाती बताई गई है, वो दिन भर नपा परिसर में यूं ही खड़ा रहता है, लेकिन हर दिन उसमें डीजल का खर्चा डाला जा रहा है। इन कर्मचारियों में अनिल, दबीर खान, सफदर खान, दिलीप, कुबेर धाकड़, रमेश शाक्य, शामिल हैं। वहीं नगरपालिका में मौजूद फायर ब्रिगेड में पर्याप्त स्टाफ मौजूद है, फिर भी माली के पद पर पदस्थ अय्यूब खान, संजय, राजू व घनश्याम को दमकल गाड़ी में दर्शाया जाकर ऑफिसों में काम पर लगाया है।

मिल जाएं सभी तो चमन होंगे सभी पार्क
जो सूची हमारे पास है, उसमें कर्मचारियों की संख्या तो बहुत है, लेकिन वे पार्कों की जगह दूसरी जगह काम कर रहे हैं। यदि यह सभी कर्मचारी सिर्फ एक टाइम के लिए भी मिल जाएं तो सभी पार्कों को हरा-भरा कर देंगे। मेरे पास महज 13 कर्मचारी हैं, जिनसे सभी काम करवाते हैं।
करन बाथम, पार्क प्रभारी नपा शिवपुरी

rishi jaiswal
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned