scriptWinter season, snow on the leaves of plants | सर्दी का सितम, पौधों की पत्तियों पर जमी बर्फ | Patrika News

सर्दी का सितम, पौधों की पत्तियों पर जमी बर्फ

मौसम ने एकाएक करवट बदली और गुजरी रात इतनी सर्द हो गई कि जिले के बदरवास विकासखंड में तो खेतों में खड़े फसल की पत्तियों में बर्फ तक जम गई।

शिवपुरी

Updated: December 18, 2021 11:29:27 pm

शिवपुरी/बदरवास. मौसम ने एकाएक करवट बदली और गुजरी रात इतनी सर्द हो गई कि जिले के बदरवास विकासखंड में तो खेतों में खड़े फसल की पत्तियों में बर्फ तक जम गई। सुबह तक मौसम बेहद सर्द रहा, लेकिन दिन निकलने के साथ ही धूप खिलने से लोगों को काफी हद तक राहत मिली। दिन भर चलती रही शीतलहर के चलते ऑफिसों में बैठे लोग भी सर्दी से कांपते नजर आए। न्यूनतम तापमान 4 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच जाने की वजह से अब यह मौसम फसलों के साथ-साथ इंसानों के लिए खतरा बन गया है। फसलों को बचाने के लिए जहां कृषि वैज्ञानिक ने सलाह दी है, वहीं डॉक्टरों ने भी लोगों को इस सर्द मौसम से बचने के लिए कुछ सावधानियां बताई हैं, अन्यथा यह मौसम जान पर भारी पड़ सकता है।
सर्दी का सितम, पौधों की पत्तियों पर जमी बर्फ
सर्दी का सितम, पौधों की पत्तियों पर जमी बर्फ
यूं तो मौसम के मिजाज शुक्रवार की शाम से ही बिगड़ गए थे और जैसे-जैसे रात गहराती गई, सर्दी भी अपना रौद्र रूप दिखाती गई। रात में ठंड अधिक पड़ी कि खेतों में फसल की पत्तियों पर पानी की बूंदे जमकर बर्फ के रूप में तब्दील हो गई। चूंकि रात सर्द होने की वजह से किसान पहले से ही चिंतित थे और जैसे ही सुबह हुई तो वे अपने खेत में पहुंचे तो वहां पर उन्हें पत्तियों में बर्फ की परत जमी हुई नजर आई। रात अधिक सर्द होने की वजह से शनिवार की सुबह मॉर्निंग वॉक पर कम ही लोग घर से बाहर निकले, लेकिन जैसे ही सुबह 7.30 बजे धूप निकली तो ठिठुर रहे लोगों ने राहत की सांस ली। फिर पूरे दिन तेज धूप होने से बाजार हो या दफ्तर, दुकानदार से लेकर कर्मचारी तक धूप सेंकते नजर आए। क्योंकि कमरे के अंदर बैठते ही इतनी अधिक सर्दी का अहसास था कि उंगलियां तक काम नहीं कर रही थीं।
किसान रहें सावधान
कृषि विज्ञान केंद्र के कृषि वैज्ञानिक डॉ. एमके भार्गव ने कहा कि 4 डिग्री तक पारा गिरने से पाले का खतरा बढ़ जाता है, क्योंकि पत्तियों व तनों में मौजूद पानी के बर्फ जम जाने से पौधों की कोशिकाएं फट जाती हैं। जिससे पौधा पूरी तरह से नष्ट हो जाता है। किसान खेतों में पानी दें, तथा रात में कचरा इक_ा करके उसमें आग लगाकर धुआं करें। इससे तापमान में 1 या 2 डिग्री बढ़ जाता है और पाला लगने का खतरा कम हो जाता है।
सावधान रहें लोग
जिला अस्पताल के सिविल सर्जन डॉ. राजकुमार ऋषिश्वर ने बताया कि इन दिनों पड़ रही कड़ाके की सर्दी मनुष्य के लिए बड़ा खतरा है। ब्लड प्रेशर के मरीज सुबह जल्दी न उठें और यदि नींद खुल भी जाए तो बाहर न निकलें, क्योंकि इतने कम तापमान में हार्ट अटैक का खतरा अधिक रहता है। श्वांस के मरीजों को भी इस मौसम में खतरा रहता है तथा बच्चों व बुजुर्गों को इससे बचाना चाहिए, क्योंकि बच्चों में निमोनिया बहुत जल्दी हो जाता है।
ये रखें सावधानी
बीपी के मरीज बिस्तर तभी छोड़ें, जब धूप निकले। शरीर को पूरी तरह से गर्म कपड़ों से ढंक कर निकलें।
श्वांंस के मरीज शरीर ढांक कर रखें तथा आग न तापें तथा रूम हीटर का उपयोग न करें, रूम में ऑक्सीजन कम हो जाती है।
मासूम बच्चों को सर्द हवाओं से बचाएं, क्योंकि उन्हें निमोनिया का खतरा बना रहता है। उन्हें गर्म कपड़ंों में ही रखें।
फसल पर जमी मिली बर्फ
जैसे ही मैं सुबह अपने खेत पर गया तो मेरे खेत में चना एव गेहंू की फसल पर बर्फ जमी हुई थी। चूंकि पूर्व में अधिक वर्षा से सोयाबीन की फसल बर्वाद हो गई और अभी से इस प्रकार हालात हैं तो फसल के दाने को नुकसान पहुंचा सकता है।
विनय चतुर्वेदी, कृषक बदरवास

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

भाजपा की दर्जनभर सीटें पुत्र मोह-पत्नी मोह में फंसीं, पार्टी के बड़े नेताओं को सूझ नहीं रह कोई रास्ताविराट कोहली ने छोड़ी टेस्ट टीम की कप्तानी, भावुक मन से बोली ये बातAssembly Election 2022: चुनाव आयोग ने रैली और रोड शो पर लगी रोक आगे बढ़ाई,अब 22 जनवरी तक करना होगा डिजिटल प्रचारभारतीय कार बाजार में इन फीचर के बिना नहीं बिकेगी कोई भी नई गाड़ी, सरकार ने लागू किए नए नियमUP Election 2022 : भाजपा उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी, गोरखपुर से योगी व सिराथू से मौर्या लड़ेंगे चुनावमौसम विभाग का इन 16 जिलों में घने कोहरे और 23 जिलों में शीतलहर का अलर्ट, जबरदस्त गलन से ठिठुरा यूपीBank Holidays in January: जनवरी में आने वाले 15 दिनों में 7 दिन बंद रहेंगे बैंक, देखिए पूरी लिस्टUP School News: छुट्टियाँ खत्म यूपी में 17 जनवरी से खुलेंगे स्कूल! मैनेजमेंट बच्चों को स्कूल आने के लिए नहीं कर सकता बाध्य
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.