आदिवासी युवा को मिलेगा वायुसेना में मौका, यह है भर्ती प्रक्रिया

23 फरवरी से 26 फरवरी तक चलने वाली चार दिवसीय वायु सैनिक भर्ती रैली में शिवपुरी में रहने वाले आदिवासी वर्ग के युवा भाग ले सकेंगे।

शिवपुरी/ जिले के आदीवासी वर्ग के युवाओं के लिए भारत सरकार की वायु सेना में भर्ती लेने का बड़ा मौका है। इसके लिए अनूपपुर जिले में 23 फरवरी से 26 फरवरी तक चार दिवसीय आयोजित होने वाला है। इस वायु सैनिक भर्ती रैली में शिवपुरी में रहने वाले आदिवासी वर्ग के युवा भाग ले सकेंगे। भर्ती रैली में शामिल होने वाले आदिवासी वर्ग के युवा समस्त वांछित दस्तावेजों के साथ आवेदन संबंधित जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी के कार्यालय में जमा कर सकते हैं।

 

पढ़ें ये खास खबर- मजदूर के खाते से हुआ 11 करोड़ का ट्रांजेक्शन, सवालों के घेरे में आया बैंक प्रबंधन


इच्छुक अभ्यार्थी यहां करे आवेदन

जिला संयोजक आदिम जाति कल्याण विभाग ने द्वारा प्राप्त जानकारी के मुताबिक, वायु सैनिक भर्ती रैली में शामिल होने वाले पात्र युवाओं को जिला स्तर पर भर्ती रैली के पूर्व लिखित एवं शारीरिक प्रशिक्षण देने के पश्चात 26 फरवरी को अनूपपुर में आयोजित भर्ती में शामिल किया जाएगा। इच्छुक अभ्यर्थी अपना आवेदन संबंधित जनपद पंचायत व जिला संयोजक आदिम जाति कल्याण विभाग शिवपुरी के कार्यालय में जमा करा सकते हैं।

 

पढ़ें ये खास खबर- कुछ देर के लिए चीन में रुका था कनाडा से चला विमान, कोरोना वायरस के शक में यहां हुआ चेकअप


इस आयु वर्ग के युवा कर सकते हैं आवेदन

भारतीय वायु सेना द्वारा आयोजित की जा रही इस भर्ती रैली में 17 जनवरी 2000 से 30 दिसम्बर 2003 तक जन्म लेने वाले उम्मीदवार शामिल हो सकते हैं। भर्ती में शामिल होने के लिए केंद्रीय अथवा राज्य की शिक्षा बोर्ड द्वारा मान्यता प्राप्त इंटरमीडिएट अथवा समकक्ष परीक्षा किसी भी स्ट्रीम से न्यूनतम 50 प्रतिशत अंक व अंग्रेजी विषय में भी न्यूनतम 50 प्रतिशत अंक उत्तीर्ण किए हुए उम्मीदवार भाग ले सकेंगे।

 

पढ़ें ये खास खबर- अधिकारियों की बैठक में बोले प्रशासक, बजट नहीं है तो फिजूलखर्ची बंद करो


इस तरह होगा चयन

अभ्यर्थियों को शारीरिक योग्यता परीक्षण पास करना होगा। इसमें 1.6 किलोमीटर की दौड़ सम्मिलित है, जो अभ्यार्थी को 6 मिनिट 30 सेकंड में पूरी करनी होगी। इस शारीरिक योग्यता परीक्षण में क्वालिफाय करने के लिए 10 पुशअप, 10 सिटअप और 20 उठक-बैठक का फिजिकल टेस्ट देना होगा। इसके अलावा, शरीर पर केवल बाहरी हाथों के अंदरूनी भाग (कलाई से कोहनी तक) तथा हथेली के पीछे वाले भाग पर स्थायी शारीरिक टैटू को ही मान्य किया जाएगा। इससे अधिक टैटू गुदे होने पर अभ्यार्थी का चयन नहीं हो सकेगा। इस अनुमति भी इसलिए दी गई है क्योंकि टैटू गुदवाना जनजातीय लोगों की परंपरा का हिस्सा होता है।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned