scriptपूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई की कर्मस्थली पर बीजेपी को करारी शिकस्त किसने बिगाड़ा खेल जानिए पूरी गणित | Patrika News
श्रावस्ती

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई की कर्मस्थली पर बीजेपी को करारी शिकस्त किसने बिगाड़ा खेल जानिए पूरी गणित

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई की कर्मस्थली श्रावस्ती लोकसभा सीट पर बीजेपी को करारी शिकस्त मिली है। बीजेपी का खेल कैसे बिगड़ गया जानिए इसकी पूरी गणित

श्रावस्तीJun 05, 2024 / 04:06 pm

Mahendra Tiwari

Lok sabha result 2024

सपा प्रत्याशी राम शिरोमणि वर्मा भाजपा प्रत्याशी साकेत मिश्रा

श्रावस्ती लोकसभा सीट का गठन होने के बाद यहां से सिर्फ एक बार भाजपा प्रत्याशी ने अपनी जीत दर्ज कराई। बलरामपुर जिले की श्रावस्ती लोकसभा सीट पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई की राजनीतिक कर्मस्थली रही है। यहां से बीजेपी को करारी शिकस्त मिली है। यहां पर हाथी की सवारी छोड़कर साइकिल पर सवार हुए राम शिरोमणि वर्मा ने अपना परचम लहराया है।
Shravasti Lok Sabha Result 2024: पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई की कर्मस्थली पर बीजेपी को करारी हार मिली है। यहां पर सपा उम्मीदवार राम शिरोमणि बर्मा ने 76673 मतों से भाजपा प्रत्याशी को पराजित कर दूसरी बार सांसद चुने गए हैं। राम शिरोमणि वर्मा को 511055 मत मिले जबकि निकटतम प्रत्याशी भाजपा के साकेत मिश्र मात्र 434382 मत ही हासिल कर सकें। यहां पर बीएसपी प्रत्याशी मुईनुद्दीन अहमद अपनी जमानत भी नहीं बचा पाए। 56251 मत से संतोष करना पड़ा। भाजपा प्रत्याशी की हार से जहां भाजपा खेमे में मायूसी देखी गई। वह सपा पार्टी कार्यालय पर दूसरे दिन भी कार्यकर्ताओं का उत्साह दिखा।

बसपा ने बिगाड़ दिया बीजेपी का खेल

श्रावस्ती लोकसभा सीट पर बसपा ने मुस्लिम प्रत्याशी उतार कर भले ही सपा कोई नुकसान पहुंचाने की कोशिश किया। लेकिन यहां दांव उल्टा पड़ गया। यहां पर बहुजन समाज पार्टी ने सपा नहीं बल्कि बीजेपी का खेल बिगाड़ दिया। बीजेपी को उम्मीद थी कि 2019 के लोकसभा चुनाव में सपा-बसपा गठबंधन के प्रत्याशी को 4,41,771 मत मिले थे। तब भाजपा के दद्दन मिश्रा 4,36,451 मत पाकर मात्र 5,320 मतों से हार गए थे। ऐसे में भाजपा मान रही थी कि इस बार सपा-बसपा अलग-अलग चुनाव लड़ रहे हैं। इसके साथ ही बसपा ने मुस्लिम प्रत्याशी मैदान में उतारा है। जिससे भाजपा यहां भारी मत से जीत सकती है। लेकिन बसपा ने खेला कर दिया। एक तरफ जहां मुस्लिम मतदाताओं ने एकतरफा इंडिया गठबंधन के पक्ष में मतदान किया। वहीं दूसरी तरफ बसपा का कैडर वोट या तो बसपा या फिर धीरे से ज्यादातर सपा के साथ चला गया।

Hindi News/ Shravasti / पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई की कर्मस्थली पर बीजेपी को करारी शिकस्त किसने बिगाड़ा खेल जानिए पूरी गणित

ट्रेंडिंग वीडियो